सेक्स करते समय क्या चाहती हैं महिलाएं, जानिए वो 9 राज

सोशल मीडिया। सेक्स संबंध बनाते वक्त महिलाएं किसी पुरुष से क्या चाहती हैं, यह हमेशा से ही शोध का विषय रहा है। इसी मुद्दे पर ताजातरीन रिसर्च के नतीजे सामने आए हैं। किंसले इंस्टिट्यूट के शोध में सेक्स से जुड़े विषय के एक्सपर्ट्स के अलावा 700 से ज्यादा महिलाओं ने खुलकर अपने विचार व्यक्त किए हैं। महिलाएं बिस्तर पर क्या चाहती हैं मर्द से, जानिए वो 9 राज

1. कुछ इस तरह प्यार करें पुरूष
महिलाएं चाहती हैं कि पुरुष कुछ अलग हटकर उन्हें प्यार करे। जैसे मुंह से की गईं ‘शरारतें’. आंखों में आंखें डालकर प्यार जताना, होठों को संवेदनशील अंगों पर फिराना, किसी और तरीके से देह को छूना महिलाओं को भाता है। जीभ के अगले भाग से नाजुक अंगों का स्पर्श भी महिलाओं का मन मचलने के लिए काफी होता है सर्वे में शामिल करीब 42 फीसदी महिलाओं ने यह बात स्वीकार की है।

2. फोरप्ले लाता है सेक्स में ‘क्रिएटिविटी’
फोरप्ले सेक्स का अहम पार्ट है, जिसका अपना मजा है। सर्वे में शामिल महिलाओं ने माना कि फोरप्ले के दौरान होने वाली उत्तेजना एकदम अलग तरह की होती है. महिलाओं ने कहा कि पुरुषों को सेक्स के मामले में थोड़ा ‘क्रिएटिव’ होना चाहिए। कुछ नया और एकदम अलग अंदाज में किया जाना महिलाओं को खूब भाता है।

3. कंडोम के बिना यौन संबंध
पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं ने भी यह माना कि उन्हें कंडोम के बिना यौन संबंध ज्यादा अच्छा लगता है। सर्वे में शामिल महिलाओं ने कहा कि कंडोम यौन रोगों से बचाव का यह कारगर तरीका है। इसके इस्तेमाल से महिलाएं खुलकर सेक्स का भरपूर मजा ले पाती हैं।

4. सेंसिटिव अंगों के साथ संवेदनशीलता
महिलाएं यही चाहती हैं कि उसके बेहद कोमल अंगों को शुरुआती दौर में ज्यादा तकलीफ न दी जाए। महिलाएं पुरुषों से चाहती हैं कि वे उसके सेंसिटिव अंगों के साथ संवेदनशीलता से ही पेश आएं।

5. मौसम व वातावरण का पड़ता है सेक्स पर असर
डॉ. होल्सटेज ने कहा कि सेक्स के दौरान वातावरण भी काफी मायने रखता है। अगर कमरे का तापमान अनुकूल रहता है, तो यह सेक्स का मजा बढ़ा देता है। शोध के दौरान 50 फीसदी महिलाओं ने स्वीकार किया कि संभोग के दौरान अनुकूल मौसम व वातावरण न होने की वजह से वे चरम तक न पहुंच सकीं।

6. सेक्स के दौरान पोजिशन का भी रखें खयाल
सेक्स संबंध बनाने के दौरान पोजिशन का भी खयाल रखना बेहद जरूरी होता है। स्त्री के निचले भाग को अगर दो-तीन तकियों के सहारे थोड़ा-सा और ऊपर उठाकर संभोग किया जाए, तो इससे संसर्ग ठीक से हो पाता है। वह स्थिति भी बेहतर होती है, जब स्त्री लेटे हुए पुरुष के ऊपर आकर संभोग करती है। इससे स्त्रियां ‘उन’ अंगों में ज्यादा उत्तेजना महसूस करती हैं।

7. युवा महिलाओं ने कहा कुछ ऐसा
ऑस्ट्रेलियन सेक्स रिसर्चर जूलियट रिचटर्स कहती हैं कि सर्वे में शामिल पांच में से केवल एक महिला ने माना कि वे केवल एकदम नॉर्मल तरीके से किए गए संभोग से ही चरम तक पहुंच जाती हैं। ज्यादातर युवा महिलाओं का मानना था कि वे अपने पार्टनर से चाहती है कि वे सेक्स के दौरान अपने हाथ और मुंह का भी ज्यादा इस्तेमाल करें। उन्हें अपनी किताब के लिए 19 हजार लोगों पर किए गए सर्वे के दौरान इस तथ्य का पता चला।

8. जल्दबाजी की, तो गए ‘काम’ से
सेक्स मेडिसिन के एक जर्नल में प्रकाशित स्टडी के मुताबिक, सेक्स में जल्दबाजी दिखलाने पर पुरुष तो संतुष्ट हो जाते हैं, पर महिलाएं चरम तक नहीं पहुंच पाती हैं। ऐसे में पुरुषों की जिम्मेदारी होती है कि वे बिना हड़बड़ी दिखलाए अपनी पार्टनर को लंबे गेम में साथ लेकर चलें।

9. जरूरी नहीं कि हर बार चरम तक पहुंचा ही जाए
महिला हर बार चरम तक पहुंच ही जाए, यह कोई जरूरी नहीं है। कई बार तनाव व थकान की वजह से ऐसा नहीं हो पाता। ऐसे में जबरन आधे घंटे तक ‘खेल’ जारी रखने की बजाए इसे खत्म करना बेहतर रहता है। चरम तक न ले जाने के लिए हर बार पुरुष ही जिम्मेदार नहीं होता। कुल मिलाकर इस क्रीड़ा का आनंद ही मायने रखता है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *