ऋषिकेश: बोर्डिंग स्कूल में हुए ‘वासु हत्याकांड’ की जांच के लिए जिलाधिकारी ने गठित की तीन सदस्यीय टीम

उत्तराखंड के ऋषिकेश में चिल्ड्रन होम एकेडमी रानीपोखरी भोगपुर में कक्षा सात के छात्र वासु की हत्या मामले की जांच के लिए जिलाधिकारी देहरादून ने तीन सदस्यीय टीम का गठन कर दिया है। टीम को जल्द से जल्द सभी पहलुओं पर जांच कर रिपोर्ट प्रेषित करने का निर्देश दिया गया है। जांच समिति में मुख्य शिक्षा अधिकारी आशा पैन्यूली, जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट और उपजिलाधिकारी ऋषिकेश को रखा गया है। बीती 10 मार्च को एकेडमी में सातवीं कक्षा के छात्र वासु की निर्मम हत्या कर दी गई थी। मामले के लगातार तूल पकड़ने के साथ ही उच्च स्तरीय जांच की भी मांग उठ रही थी। मामला चूंकि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत होने के कारण जिम्मेदार अधिकारी भी मामले को गंभीरता से ले रहे हैं।

मुख्य शिक्षा अधिकारी देहरादून आशा पैन्यूली ने बताया कि जांच समिति नए सिरे से सभी पहलुओं को लेकर जांच पड़ताल शुरू करने जा रही है। मामले से जुड़े सभी बिंदुओं की गहन समीक्षा की जाएगी। प्रयास किया जा रहा है कि जल्द जांच शुरू कर रिपोर्ट तैयार जिलाधिकारी को सौंप दी जाए। वासु हत्या मामले में पुलिस अब तक दो छात्रों सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। छात्र की निर्मम हत्या के मामले में संज्ञान लेते हुए पहले बाल सुरक्षा आयोग इसके बाद अल्पसंख्यक आयोग एकेडमी का दौरा कर रिकार्ड खंगाल चुकी है। अब जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से देखते हुए तीन अधिकारियों को जांच का जिम्मा सौंपा है। इससे साफ है कि जांच में एकेडमी की खामियां नजर आएगी। हालांकि इससे पहले शिक्षा विभाग अपने स्तर से भी सभी जरूरी जांच करवा चुका है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *