India Times Group

आईसीसी विश्वकप के फाइनल में आज आमने-सामने भिड़ेंगे इंग्लैंड और पाकिस्तान

 

इंग्लैंड और पाकिस्तान आईसीसी विश्वकप के फाइनल में रविवार को उसी मैदान पर आमने-सामने होंगे, जहां तीस वर्ष पहले एक-दूसरे से भिड़े थे। 25 मार्च 1992 को उस वक्त वनडे विश्वकप का फाइनल था। इस बार 13 नवंबर को टी-20 का खिताबी मुकाबला है। इमरान खान की कप्तानी में ग्राहम गूच की टीम इंग्लैंड को पाकिस्तान ने 22 रन से हराकर अपना पहला विश्व खिताब जीता था। इस बार इंग्लैंड या पाकिस्तान में से जो भी टीम जीतेगी, उसका यह तीसरा विश्व खिताब होगा। इससे पहले दोनों ही टीमें एक-एक वनडे और एक-एक टी-20 विश्वकप जीत चुकी हैं।

हालांकि, मौसम विभाग ने फाइनल वाले दिन बारिश का अनुमान जताया है। यदि बारिश न हुई तो यह पक्का है कि क्रिकेट प्रशंसकों को फाइनल में रनों की बारिश देखने को मिल सकती है। ग्रुप चरण में भारत और जिम्बाब्वे से हार के बाद पाकिस्तान ने जबरदस्त वापसी की। साथ ही नीदरलैंड की दक्षिण अफ्रीका पर जीत से किस्मत के सहारे नॉकआउट चरण में पहुंची पाकिस्तान ने मौके का फायदा उठाया है। सेमीफाइनल में खिताब की प्रबल दावेदार न्यूजीलैंड को शिकस्त दी। 

दूसरी ओर इंग्लैंड ने भी ग्रुप चरण में आयरलैंड जैसी कमजोर टीम से हारने के बाद वापसी की है। दोनों ही टीमें सुपर 12 के अपने-अपने ग्रुप में दूसरे नंबर पर रहीं थी। सेमीफाइनल में पहले नंबर की भारत और न्यूजीलैंड को हराकर फाइनल में पहुंची हैं। दुनिया की दूसरे नंबर की इंग्लैंड और तीसरे नंबर की पाकिस्तान की टीमें इस वक्त जबरदस्त फॉर्म में हैं। दोनों ही टीमों में कड़ी टक्कर होने की उम्मीद है।

पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम महान क्रिकेटर इमरान खान (1992 वनडे विश्वकप के विजेता कप्तान) और यूनिस खान (2009 टी-20 विश्वकप के विजेता कप्तान) की सूची में अपना नाम भी दर्ज कराना चाहेंगे। लीग मैच में रन नहीं बनाने वाले बाबर ने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ अर्धशतक लगाकर लय हासिल की है। 

दूसरी ओर, इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर गजब की फॉर्म में हैं। उन्होंने सेमीफाइनल में भारत के खिलाफ एलेक्स हेल्स के साथ मिलकर नाबाद 170 रन की साझेदारी की थी। भारतीय टीम को करारी शिकस्त देने वाले जोस बटलर 30 वर्ष पहले इंग्लैंड को वनडे विश्वकप में पाकिस्तान से मिली हार का बदला इसी मैदान में ही चुकता करना चाहेंगे। बटलर भी पॉल कॉलिंगवुड (2010 टी-20 विश्वकप के विजेता कप्तान) और इयोन मोर्गन (2019 वनडे विश्वकप के विजेता कप्तान) की फेहरिस्त में अपना नाम दर्ज कराना चाहेंगे।

इंग्लैंड या पाकिस्तान में से जो भी टीम खिताब जीतेगी वह वेस्टइंडीज के क्लब में शामिल हो जाएगी। इससे पहले वेस्टइंडीज ही दो बार टी-20 का विश्वकप जीती है। विंडीज ने 2012 और 2016 में यह खिताब जीता था।