India Times Group
आफरीदी ने मुझे इस्लाम कबूलने के लिए मजबूर किया : कनेरिया
 

नयी दिल्ली। पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने कहा कि पूर्व कप्तान शाहिद आफरीदी ने उन्हें धमकी दी थी कि यदि उन्होंने इस्लाम नहीं कबूला तो उनका करियर तबाह कर दिया जाएगा।
आफरीदी ने कनेरिया द्वारा भारतीय मीडिया को दिये गये साक्षात्कार में लगाये गये आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा था कि वह पैसे और शोहरत कमाने के लिए यह आरोप लगा रहे हैं, जिसके जवाब में ट्वीट करते हुए कनेरिया ने यह बात कही।
आफरीदी ने यह भी कहा कि भारत पाकिस्तान का दुश्मन मुल्क है और उसे साक्षात्कार देने से धार्मिक भावनाएं भडक़ सकती हैं।

कनेरिया ने सोमवार को कहा, भारत हमारा दुश्मन नहीं है। हमारे दुश्मन वे लोग हैं जो लोगों को धर्म के नाम पर भडक़ाते हैं। अगर आप भारत को दुश्मन मानते हैं तो फिर कभी किसी भारतीय मीडिया चैनल पर मत जाइएगा।
उन्होंने अगले ट्वीट में कहा, जब मैंने जबरन धर्मांतरण के खि़लाफ़ अपनी आवाज़ उठाई, तो मुझे धमकी दी गयी कि मेरा करियर तबाह किया जा सकता है।
कनेरिया ने इससे पहले दिये गये साक्षात्कार में कहा था, शाहिद आफरीदी अकेले खिलाड़ी थे जिन्होंने मुझे नीचा दिखाना चाहा। हम एक ही विभाग के लिए साथ खेला करते थे। वह मुझे बेंच पर ही रखते और एकदिवसीय टूर्नामेंट नहीं खेलने देते थे।

उन्होंने कहा, हां, आफरीदी मुझसे अक्सर इस्लाम कबूलने के लिए कहते थे, लेकिन मैंने कभी उन्हें संजीदगी से नहीं लिया। मैं अपने धर्म में विश्वास रखता हूं और यह क्रिकेट पर निर्भर नहीं है।
इसके जवाब में आफरीदी ने पाकिस्तान न्यूज़ इंटरनेशनल को कहा , जो व्यक्ति यह सब कह रहा है, उसके किरदार को देखो। वह पैसे और शोहरत कमाने के लिए मुझपर इल्ज़ाम लगा रहे हैं।
आफरीदी ने कहा, कनेरिया मेरे छोटे भाई की तरह था और मैं उसके साथ कई साल विभाग के लिए खेल चुका हूं। अगर मेरा रवैया बुरा था तो उसने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड या विभाग के अधिकारियों को मेरी शिकायत क्यों नहीं की? वह हमारे दुश्मन मुल्क को साक्षात्कार दे रहा है जिससे धार्मिक भावनाएं भडक़ सकती हैं।