हेलमेट के बगैर स्टार्ट नहीं होगी स्कूटी

हल्द्वानी। परिवार के लोग घर के लाडले की सुरक्षा के लिए सब कुछ करते हैं। हल्द्वानी के देवलचैड़ निवासी पवन वर्मा और ऋतंभरा ने भी अपने बेटे वृतांत के लिए कुछ ऐसा ही किया उन्होंने बड़े बेटे तनिष्क की मदद से ऐसा हेलमेट तैयार किया है, जिसे न पहनने पर स्कूटी स्टार्ट नहीं होगी। अगर बीच रास्ते में उतारने की कोशिश भी की तो भी गाड़ी तुरंत बंद हो जाएगी। यह खास हेलमेट बनाने वाले पिता इंजीनियर है तो बड़ा बेटा भी उसी की पढ़ाई कर रहा है।

देवलचैड़ सत्यलोक कॉलोनी के मैकेनिकल इंजीनियर पवन वर्मा अभी वह एक सोलर कंपनी में हैं। बड़ा बेटा तनिष्क सोनी (19) गुजरात में बैचलर ऑफ डिजाइन का कोर्स कर रहा है और छोटा बेटा वृतांत (17) आर्यमान 12वीं का छात्र है। पवन के अनुसार स्कूटी चलाते समय वृतांत कभी-कभार हेलमेट उतार देता था, यह बात मां ऋतंभरा को पता चली तो घर के अन्य सदस्य भी सुरक्षा को लेकर चिंतित हुए । जिसके बाद इंजीनियरिंग कर रहे तनिष्क ने कहा कि ऐसा डिजायन तैयार किया जाए, जिससे बगैर हेलमेट पहने स्कूटी स्टार्ट ही न हो। दोनों इस काम में लग गए और काफ़ी मशक्कत के बाद ऐसा हेलमेट तैयार हो गया, जिसे न पहनने पर स्कूटी चालू ही नहीं होगी। इस अविष्कार से उनके परिवार ने समाज को सड़क सुरक्षा व यातायात नियमों का पालन करने का संदेश भी दिया है।

Loading...

पवन बताते है कि इस स्कूटी के इंजन में एक खास किस्म का ट्रांसमीटर लगाया गया है, जिसका रिसीवर हेलमेट में फिट किया गया है। गाड़ी चलाने वाले के सिर पर जब तक यह हेलमेट नहीं होगा, इंजन को स्टार्ट होने का सिग्नल नहीं मिलेगा। चलती गाड़ी में अगर सेकेंड भर के लिए भी हेलमेट उतारा तो सिग्नल ऑफ होने से स्कूटी बंद हो जाएगी। इस सिस्टम को तैयार करने में कई तकनीकी दिक्कतें सामने आईं जिसमें एक महीने का समय लगा। हेलमेट की दूसरी बड़ी खासियत यह है कि गाड़ी चोरी भी नहीं होगी क्योंकि बगैर उस हेलमेट के गाड़ी स्टार्ट ही नहीं हो सकत

पवन ने बताया कि वायु प्रदूषण भी बढ़ता जा रहा है इसलिए उन्होंने अपनी कार के उपर खुद का बनाया वटरक्षक नाम का यंत्र लगाया है। कार के ऊपर लगा यह यंत्र बाहरी हवा को साफ करता है। इसका आविष्कार भी दानों पिता पुत्र नें ही किया है।

साभार – गोविंद बिष्ट।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *