पांच गुना जुर्माना वसूलेगा परिवहन विभाग

उत्तराखंड में बगैर टैक्स के सार्वजनिक वाहन चलाते हुऐ पकड़े जाने पर कर का पांच गुना जुर्माना वसूलेगा परिवहन विभाग, उत्तराखंड मोटरयान सुधार अधिनियम में यह व्यवस्था पहले से ही है। इसलिए सरकार ने अधिनियम में प्रति सीट के हिसाब से जुर्माना किए जाने के प्रावधान को नियमावली से हटा दिया है। परिवहन विभाग ने अधिनियम में संशोधन का यह प्रस्ताव मंत्रिमंडल के सामने रखा जिसे मंजूरी दी गई है।

Image result for rto challan cutting
कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि परिवहन विभाग नियमावली में यह व्यवस्था थी कि कोई सार्वजनिक वाहन अगर बिना टैक्स के चल रहा है तो उससे 25 रुपये प्रति सीट सामान्य के लिए और 40 रुपये प्रति सीट वातानुकूलित के लिए उपर बताई गई दर के हिसाब से जुर्माना वसूला जाएगा।

अधिनियम में पहले से यह प्रावधान भी है कि ऐसे सार्वजनिक वाहनों से कुल कर से पांच गुना राशि वसूली जाएगी। उन्होंने कहा कि अधिनियम में पहले के प्रावधान को देखते हुए प्रति सीट वाले प्रावधान को हटा दिया है। अधिनियम में यह संशोधन भी किया गया है कि सार्वजनिक वाहनों में ओवर लोडिंग पाए जाने में चालान होने पर ड्राइवर और कंडक्टर की सीट नहीं गिनी जाएगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *