पुलवामा शहीदों के परिजनों को कब मिलेगी जमा रकम ?

देहरादून। पुलवामा के आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिवार और घायलों की मदद के लिए जमा की गई 56 लाख की रकम वन मुख्यालय ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दी थी लेकिन अभी तक बांटी नहीं गई है। पुलवामा पीड़ितों की आर्थिक मदद के लिए विभाग के अफसरों और कर्मचारियों ने एक दिन के वेतन से इंतजाम किया था। वन विभाग में सवाल उठने लगे हैं कि यह रकम आखिर राहत कोष में क्यों डाली गई ?

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमले में देश ने 40 से ज्यादा जांबाज जवानों को खो दिया था। इसके बाद शहीदों के परिजनों की मदद के लिए देश के हर कोने से लोग आगे आए थे। वन विभाग ने भी शहीद जवानों के परिजनों और घायलों की आर्थिक मदद के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों से एक दिन का वेतन देने को कहा था जिसमें वन विभाग प्रमुख पीसीसीएफ जयराज के आदेश पर अधिकारी-कर्मचारियों, यहां तक कि दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों ने भी एक दिन का वेतन दिया। तब 56 लाख 66 हजार एक सौ रुपये इकट्ठा हो गए थे, जिसका बैंक ड्राफ्ट बनवाकर मुख्यमंत्री कार्यालय को भेज दिया गया था।

Loading...

मुख्यमंत्री कार्यालय के लोक सूचना अधिकारी डीके लोहुमी के अनुसार, 10 अप्रैल को यह रकम मुख्यमंत्री राहत कोष के इलाहाबाद बैंक (गांधी रोड) के खाता संख्या 50482918950 में जमा करवाई गई थी जो आज तक वहीं पड़ी है। यह रकम शहीदों के परिवारों और किसी भी घायल को बांटी नहीं जा सकी है।

पीसीसीएफ, जयराज के अनुसार यह रकम मुख्यमंत्री सैनिक अर्द्धसैनिक कल्याणार्थ राहत कोष के जरिये पुलवामा शहीदों और घायलों की मदद के लिए दी थी। अगर यह मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा की गई है तो गलत है। यह एक सामान्य कोष है। इसमें यह रकम जमा नहीं होनी चाहिए। बाकी मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है कि रकम कहां और किसे सौंपी गई थी।
                                                                                                                                                                 (साभार-ओमप्रकाश सती)

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *