रुड़की: पुलिस ने नकली चाय पत्ती बनाने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़, एक आरोपी गिरफ्तार

खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार का कहना है कि व्यक्ति के पास फूड लाइसेंस भी नहीं है। फिलहाल, चाय पत्ती के सैम्पल जांच लैब में भेजे गए हैं।

रुड़की। यदि आप भी चाय पीने के शौकीन हैं तो जरा सतर्क हो जाएं, क्योंकि इन दिनों शहर में नकली चाय पत्ती बनाने का खेल चल रहा है। यदि आप इस तरह की चाय पत्ती से बनी हुई चाय पीएंगे तो आपका सेहद खराब हो सकता है। दरअसल, सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र स्थित पहाड़ी बाजार में पुलिस ने नकली चाय पत्ती बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। खास बात यह है कि पुलिस ने छापा मारकर एक व्यक्ति को भी गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस को काफी लंबे समय से सूचना मिल रही थी कि केसरी चाय पत्ती के नकली रैपरों में चाय बेची जा रही है। इसके बाद पुलिस ने जाल बिछाकर मामले का खुलासा किया। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं, खाद्य सुरक्षा विभाग ने भी चाय पत्ती के सैम्पल जांच के लिए भेज दिये है। सिविल लाइन कोतवाली प्रभारी राजेश साह का कहना है कि फिलहाल व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। वहीं, गेदाम से लाखों रुपए की चाय पत्ती बरामद की गई जिसको पुलिस ने कब्जे में लिया है और पैकिंग करने वाली मशीन को भी सील कर दिया है।

 व्यक्ति के पास फूड लाइसेंस भी नहीं है
खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार का कहना है कि व्यक्ति के पास फूड लाइसेंस भी नहीं है। फिलहाल,  चाय पत्ती के सैम्पल जांच लैब में भेजे गए हैं। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं,  शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि वही लंबे समय से केसरी का डिस्ट्यूबिटर है। और उसका ही ये ब्रांड है। व्यक्ति बिना बताए इस काम को कर रहा है जोकि गैर कानूनी है। पुलिस आरोपी व्यक्ति से पूछताछ कर रही है। वहीं, शहर में नकली दवाइयों के कारोबार के बाद अब नकली चाय पत्ती का कारोबार भी ख़ूब फलफूल रहा है। लेकिन अब सबसे बड़ा सवाल खाद्य सुरक्षा विभाग पर उठने लगा है। आखिर पुलिस की छापेमारी के बाद विभाग कैसे जागा। आज तक खाद्य सामग्री की दुकानों पर चेकिंग अभियान क्यों नहीं चालाया गया।

Source link

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *