पुलिस पूछती है – रेप का लाइव सीन बताओ

उत्तर प्रदेश। आगरा के पुलिस वाले रेप पीड़िताओं से थानों में पूछते हैं कि गैंगरेप का लाइव सीन बताओ। कितनी बार कपड़े बदले, घटना किस तरह हुई और उन्हें यह बार बार दोहराना पड़ता है। शहर के तीन थानों में शिकायत लेकर पहुंचीं पीड़िताएं तो केस लिखवाने से पहले ही हार मान कर घर बैठ गयीं। हादसे की शिकार ये महिलाएं कहती हैं कि उन्हें पुलिस केस नहीं चाहिए क्योंकि पुलिस ने हमें बहुत अपमानित किया है, अटपटे और अश्लील सवालों से पीड़िताओं को ही परेशान किया जाता है।

Loading...

बता दें कि आगरा शहर में 2019 के शुरुआती छह महीनों में ही 700 से ज्यादा महिलाओं-बच्चियों के साथ इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं। 2018 के नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार, आगरा रेप की घटनाओं में प्रदेश के तीसरे नंबर का शहर था। आगरा में सात बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं लगातार हुईं, जिनमें से चार को सजा हुई और बाकी तीन मामलों में अभी जांच चल रही है।

आगरा में हाल ही में सातवीं कक्षा की एक लड़की को बदनीयती से दबोचे जापने पर वह किसी तरह से भाग निकली और जब यह बात परिवार वालों को पता चली तो उन्होंनं लड़कियों को स्कूल भेजना बंद कर दिया था। इसी तरह शहर के तीन कॉलेजों के गेट के सामने भी युवतियों से छेड़छाड़ की कोशिशें भी हुई है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *