India Times Group
काँग्रेस के दो नेता समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल
 

देहरादून। कांग्रेस के दो नेताओं राजेश्वर पैन्यूली और हेम आर्य ने समर्थकों के साथ भाजपा में वापसी हो गई है। सांसद नरेश बंसल व पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्योति गैरोला ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। रविवार दोपहर रिस्पना चौक स्थित एक होटल में दोनों नेताओं ने भाजपा का दामन थामा। पैन्यूली पूर्व में भाजपा में थे, लेकिन वर्ष 2007 में टिकट ने मिलने पर पार्टी छोड़ दी थी। वर्ष 2018 में वे कांग्रेस में शामिल हो गए थे। वे प्रतापनगर विधानसभा से लगातार तीन बार बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ चुके हैं। छह हजार से ज्यादा वोट लेते रहे। आरटीआई कार्यकर्ता के रूप में डोबरा चांटी पुल को अंजाम तक पहुंचाने में वे काफी सक्रिय रहे।

पैन्यूली के साथ जाखनीधार के पूर्व कनिष्ठ ब्लाक प्रमुख साहेब सिंह कुमाईं, युवा कांग्रेस के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष केशव रावत, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य सुंदर सिंह रावत, ग्राम प्रधान रोशन लाल, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य राणा मोहन सिंह, पूर्व प्रधान जीत सिंह रावत आदि शामिल हुए।
वहीं नैनीताल से हेम आर्य भी वर्ष 2012 में भाजपा के टिकट से चुनाव लड़े थे लेकिन वे सरिता आर्य से हार गए थे। वर्ष 2017 में भाजपा ने संजीव आर्य को टिकट दिया तो हेम ने बगावत करते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ा था। अब संजीव के कांग्रेस में वापसी के बाद हेम ने फिर भाजपा में शामिल हो गए हैं। आर्य के साथ नैनीताल कांग्रेस कमेटी के महामंत्री डूंगर सिंह, वरिष्ठ नेता नवीन नैनवाल, विजय कुमार, हरीश आर्य आदि समर्थक शामिल हुए। इस दौरान भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सुरेश जोशी आदि भी मौजूद रहे। कार्यकर्ताओं ने मिष्ठान वितरण कर उनका स्वागत किया।

जिन आशाओं के साथ कांग्रेस में शामिल हुआ था, कांग्रेस तनिक भी उनमें खरा नहीं उतरी। जो लोग भ्रष्टाचार में लिप्त थे, आज कांग्रेस ने उन्हीं को आगे कर दिया है। वहां भाई-भतीजावाद चल रहा है। पीएम मोदी के नेतृत्व में देश निरंतर आगे बढ़ रहा है।  -राजेश्वर पैन्यूली, प्रतापनगर, भाजपा नेता
बिना किसी शर्त के पार्टी में शामिल हुआ हूं। पार्टी जिसे भी टिकट देगी, उनके लिए ही काम करूंगा। पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और उनका बेटा संजीव दलबदलू हैं। उन्होंने हमेशा मेरे परिवार को आगे बढ़ने से रोका। इस बार नैनीताल की जनता उन्हें सबक सिखाएगी।  -हेम आर्य,  नैनीताल, भाजपा नेता