India Times Group
खेल मंत्री अरविन्द पाण्डेय की मेहनत हुई सफल, 'उत्तराखंड खेल नीति 2021' के प्रस्ताव को मिली कैबिनेट की मंजूरी
 

देहरादून । खेल मंत्री अरविंद पांडे की मेहनत आज आखिरकार सफल हो गई । आज उत्तराखंड कैबिनेट बैठक के निर्णयानुसार 'उत्तराखंड खेल नीति 2021' के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गयी है।
'उत्तराखंड खेल नीति 2021' लागू होने पर खेल, युवा कल्याण मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने समस्त खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों, खेल प्रेमियों को बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित की।

साथ ही खेल मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने बताया कि 'उत्तराखंड खेल नीति 2021' प्रदेश में खेल संस्कृति के विकास व उन्नयन हेतु उत्कृष्ट एवं प्रभावी है। देश में आज जिस प्रकार खेलों में युवाओं की रूचि तथा अनेक संभावनाओं ने आकार लिया है, इसी के दृष्टिगत प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में युवाओं के हित में उत्तराखंड खेल नीति-2021 का निर्माण किया गया। 'उत्तराखंड खेल नीति 2021' के अंतर्गत वर्तमान में इलेक्ट्रॉनिक कल्चर से प्रभावित बच्चों और युवाओं को पुनः खेलों के प्रति प्रेरित कर प्ले फील्ड कल्चर की ओर अग्रसर किया जायेगा।

'उत्तराखंड खेल नीति 2021' में खेल एवं खिलाड़ियों के उन्नयन, खेल प्रतिभाओं को तलाशने, निखारने व उभारने, खेलों के प्रति रुचि बढ़ाने, खिलाड़ियों के नियोजन, सामान्य आहार के साथ-साथ एक्स्ट्रा न्यूट्रिएंट्स फूड डाइट की व्यवस्था, खिलाड़ियों के लिए रोजगार के अवसर तथा सम्बंधित पूर्ण सुविधाएँ प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। युवाओं में राष्टीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतिभाओं को विकसित करने हेतु उचित आर्थिक प्रोत्साहन का प्रावधान किया गया है।

खेल मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने 'उत्तराखंड खेल नीति 2021' की मंजूरी के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ समस्त कैबिनेट का ह्रदय की गहराई से आभार व्यक्त किया। और कहा कि "निश्चित ही आगामी भविष्य में उत्तराखंड, खेल प्रदेश के रूप में भी अपनी पहचान बनाएगा। प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पटल पर देश-प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।"