India Times Group
वरिष्ठ भाजपा नेता जोगेंद्र पुंडीर ने की श्री बदरी-केदार मंदिर समिति के नवनियुक्त अध्यक्ष अजेंद्र अजय से मुलाकात कर दी बधाई
, कहा उनके नेतृत्व में पहले से और सुव्यवस्थित होगी चारधाम यात्रा
 

देहरादून। उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड भंग होने के बाद सरकार ने विधानसभा चुनाव की घोषणा से पहले श्री बदरी-केदार मंदिर समिति (बीकेटीसी) का गठन कर दिया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता व अगस्त्यमुनि निवासी अजेंद्र अजय को श्रीबदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। इसके साथ ही समिति के उपाध्यक्ष, सीईओ और 13 सदस्यों की नियुक्ति भी कर दी गई है। इस संबंध में सचिव संस्कृति, धर्मस्व, तीर्थाटन प्रबंधन एवं धार्मिक मेला एचसी सेमवाल की ओर से सात जनवरी को अधिसूचना जारी कर दी गई थी।

आज वरिष्ठ भाजपा नेता व देहरादून की कैंट सीट से टिकट की दोवदारी में सबसे मजबूत जोगेंद्र पुंडीर ने नवनियुक्त अध्यक्ष अजेंद्र अजय से मुलाकात कर बधाई और शुभकामनांए दी। इस मौके पर दोनों नेताओं के बीच राजनीतिक व सामाजिक मुद्दे पर काफी देर तक बातचीत हुई। जोगेन्द्र पुंडीर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अजेन्द्र अजय समाजसेवा के लिए समर्पित है ओर ऐसे व्यक्ति को अध्यक्ष बनने से दोनो धामों के व्यवस्था में ओर सुचारु पन आएगा। वहीं अजय अजयेंद्र ने धन्यवाद किया और कहा कि सनातन धर्म के अनुयायियों के लिए उनका पूरा जीवन संकल्पित है।

नवनियुक्त अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने कहा कि चारधाम यात्रा को सुव्यवस्थित और धामों में यात्री सुविधाएं जुटाना उनकी पहली प्राथमिकता होगी। बीकेटीसी के अधीनस्थ 51 मंदिरों में यात्री सुविधाओं को बेहतर बनाना उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने बताया कि आने वाले समय में पंच बदरी, पंच केदार और पंच प्रयाग यात्रा की योजना भी तैयार की जाएगी, जिससे श्रद्धालु एक साथ इन धार्मिक स्थलों के दर्शन कर सके। यही नहीं, यात्रा को स्थानीय स्तर पर रोजगार से जोडऩे के लिए भी बीकेटीसी द्वारा आगामी यात्रा से ही प्राथमिकता से प्रयास किए जाएंगे।

अगस्त्यमुनि निवासी अजेंद्र अजय ने वर्ष 1990 से अखिल भारतीय विद्या परिषद में शामिल होकर अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की। राज्य गठन के बाद नित्यानंद स्वामी के नेतृत्व में बनी पहली अंतरिम सरकार में शिक्षा मंत्री तीरथ सिंह रावत के पीआरओ की जिम्मेदारी निभाने के साथ उन्होंने पार्टी के मीडिया प्रभारी के साथ मीडिया सलाहकार समिति के उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी भी निभाई।

शासन की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार बीकेटीसी के अध्यक्ष पद अजेंद्र अजय भट्ट (रुद्रप्रयाग) को नियुक्त किया गया है। किशोर पंवार (चमोली) को उपाध्यक्ष और आइएफएस बीडी सिंह को समिति के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बनाया गया है। सदस्यों में आशुतोष डिमरी, श्रीनिवासन पोश्ती, कृपाराम सेमवाल, जयप्रकाश उनियाल, बीरेंद्र असवाल, नंदा देवी, रणजीत सिंह राणा, महेंद्र शर्मा, भाष्कर डिमरी, पुष्कर जोशी व राजपाल सिंह जड़धारी शामिल हैं। ऋषि प्रसाद सती व आचार्य रामानंद सरस्वती को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है। सभी का कार्यकाल तीन वर्ष होगा।