India Times Group
रोडवेज कर्मचारियों ने प्रबंधन के खिलाफ शुरू किया धरना
 

देहरादून। रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद पर्वतीय डिपो शाखा के कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर धरना शुरू कर दिया है। कर्मचारियों ने शीघ्र मांगों का निराकरण नहीं होने पर एक दिसंबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी है। पर्वतीय डिपो कार्यालय में धरने बैठे कर्मचारियों का कहना है कि निगम प्रबंधन उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं ले रहा है। विभिन्न समस्याओं के निराकरण को लेकर कई बार प्रबंधन के साथ समझौता भी हो चुका है, लेकिन अभी तक कार्यवाही नहीं हो पाई, जिस कारण कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। कहा कि पर्वतीय डिपो की 30 से ज्यादा बसें टायर और पार्ट्स के अभाव में कार्यशाला में खड़ी हैं। इससे पहाड़ के कई रूटों पर बसें नहीं चल पा रही है, जिससे यात्रियों को परेशानी हो रही है। साथ ही रोडवेज को राजस्व का नुकसान हो रहा है।

कर्मचारियों ने खराब बसों को ठीक करने, डिपो में ई टिकट मशीनों की कमी दूर करने, लिपिकों की कमी दूर करने, डिपो में उपलब्ध सभी वाहनों को आंवटित चालकों के माध्यम से संचालित करवाने, संविदा, विशेष श्रेणी चालक-परिचालकों को यदि ड्यूटी पर नहीं भेजा जाता है ऐसी स्थिति में उनको 250 किलोमीटर के हिसाब से रोजाना भुगतान करने की भी मांग उठाई है। चेतावनी दी कि यदि मांगें नहीं गई तो कर्मचारी एक दिसंबर से बेमियादी कार्य बहिष्कार शुरू कर देंगे। इस मौके पर क्षेत्रीय अध्यक्ष मेजपाल सिंह, मंत्री राकेश पेटवाल, शाखा अध्यक्ष कृष्णपाल सिंह, मंत्री नमन सिंह, सत्यपाल, मेजपाल सिंह, विनोद नौटियाल, कलम सिंह, सोहन सिंह, पंकज थापा आदि मौजूद रहे।