India Times Group
फुटबॉल टूर्नामेंट में बार एसोएिशन देहरादून के अध्यक्ष मनमोहन कंडवाल व एडवोकेट व समाजसेवी विकेश सिंह नेगी ने की शिरकत, खिलाड़ियों को बांटी फुटबॉल किट
 

देहरादून। उत्तराखंड में खेलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य की भाजपा सरकार के साथ ही कुछ समाजसेवी पूरे मनोभाव से काम कर रहे हैं। धामी सरकार जहां खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने को लेकर लेकर नई खेल नीति लेकर आई है। जिसमें हर वर्ग के खिलाड़ियों का ध्यान रखा गया है।

उत्तराखंड की युवा प्रतिभाओं को आगे लाने के लिए डिस्ट्रिक्ट स्पोर्ट्स एसोसिएशन द्वारा देहरादून में स्व. एचसी बजाज मेमोरियल फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है।
आज हुए फुटबाल मैच में बार एसोएिशन देहरादून के अध्यक्ष मनमोहन कंडवाल व एडवोकेट व समाजसेवी विकेश सिंह नेगी ने शिरकत की। इस दौरान खिलाड़ियों के उत्साहबर्धन के साथ ही सभी खिलाड़ियों को फुटबॉल किट डोनेट की गई। कार्यक्रम में दोनों ही मुख्यअतिथियों ने एसोसिएशन के प्रयस की सराहना करते हुए फुटबॉल टूर्नामेंट में शामिल सभी खिलाड़ियों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

एडवोकेट व समाजसेवी विकेश सिंह नेगी ने सभी खिलाड़ियों को आशीर्वाद देते हुए उनके उज्वल भविष्य की कामना देते हुए कहा कि उनका फुटबाल से नजदीकी रिश्ता है। उन्होंने टीम के सभी खिलाड़ियों से कहा कि वे कड़ी मेहनत करें, ताकि राज्य व देश का नाम रोशन कर सकें। विकेश सिंह नेगी ने कहा वह खिलाड़ियों के लिए सदैव सहायता व उत्सावर्धन के लिए तत्पर रहते हैं। आपको बता दें कि बीते 19 दिसम्बर से शुरू हुआ यह आयोजन आगामी 26 दिसम्बर तक पैविलियन ग्रॉउंड देहरादून में जारी रहेगा।

डिस्ट्रिक्ट स्पोर्ट्स एसोसिएशन के महासचिव गुरचरण सिंह ने बताया कि टूर्नामेंट में कुल 16 टीमें भाग ले रही हैं। प्रतिदिन दो मैच हो रहे हैं। पहला मैच सुबह 12.30 बजे से व दूसरा दोपहर 2 बजकर 30 मिनट से शुरू हो जाता है। डिस्ट्रिक्ट स्पोर्ट्स एसोसिएशन के महासचिव गुरचरण सिंह ने बताया कि आगामी 25 दिसंबर को टीमों के मध्य सेमीफाइनल मैच खेले जायेंगे। पहला सेमिफाइनल सुबह 12.30 बजे से व दूसरा दोपहर 2 बजकर 30 मिनट से शुरू हो होगा। आगामी 26 दिसंवर को फाइनल मैच खेला जायेगा। इसमें बतौर मुख्य अतिथि उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार शिरकत करेंगे। डस्ट्रिक्ट स्पोर्ट्स एसोसिएशन के महासचिव गुरचरण सिंह ने बताया 1984 से वह फुटबाल प्रतिभाओं को निखारने का काम कर रहे हैं। उनके एसोसिएशन द्वारा आयोजित टुर्नामेंटों में कई जानी मानी टीमें खेली हैं। हमारा प्रयास है कि हर साल दिसंबर में इस तरह का आयोजन करते रहें।

धामी सरकार की नई खेल नीति के मुताबिक, ओलंपिक खेल में स्वर्ण, रजत एवं कांस्य पदक विजेता खिलाड़ी को समूह ख पद (ग्रेड पे-5400) पर नियुक्ति दी जाएगी। जबकि ओलंपिक खेल में प्रतिभाग, विश्व चौंपियनशिप, विश्वकप, एशियन खेल एवं राष्ट्रमंडल खेल के पदक विजेता खिलाड़ी को ग्रेड पे-4600 एवं 4800 के सीधी भर्ती के पदों पर नियुक्ति दी जाएगी।

प्रदेश के 14 से 23 साल तक के मेधावी खिलाड़ियों को खेल संबंधी जरूरतों के लिए छात्रवृत्ति दी जाएगी। हर साल 2,600 खिलाड़ियों को दो हजार रुपये की छात्रवृत्ति दी जाएगी। प्रदेश में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा की सुविधा दी जाएगी। प्रदेश के खिलाड़ियों को शैक्षणिक, तकनीकी संस्थानों एवं विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए पांच फीसदी खेल कोटा दिया जाएगा। प्रदेश में मुख्यमंत्री खेल विकास निधि की भी स्थापना की जाएगी। खिलाड़ियों को अगले पांच साल तक संबंधित खेल के उच्च लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए खेल का माहौल उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा प्राथमिकता वाले खेलों के विकास के लिए सेंटर फॉर एक्सिलेंस बनाए जाएंगे।