India Times Group
योगी के बाद धामी के कंधे पर पीएम का हाथ, उत्तराखंड में बीजेपी नेताओं को बड़ा संदेश दे गए मोदी.?
 

देहरादून। हल्द्वानी में पीएम मोदी ने गुरुवार को उत्तराखंड को 17,500 करोड़ रुपए की 23 परियोजनाओं का तोहफा दिया तो विधानसभा चुनाव से पहले कई राजनीतिक संदेश भी दे गए। कार्यक्रम के दौरान ना सिर्फ उन्होंने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की तारीफ की, बल्कि सीएम के कंधे पर हाथ रखकर शाबासी भी दी। पीएम मोदी संग धामी की इस तस्वीर के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि पीएम मोदी ने जिस तरह यूपी में योगी के कंधे पर हाथकर पार्टी में मुख्यमंत्री के खिलाफ गुटबाजी में जुटे नेताओं को संदेश दिया था, कुछ उसी तरह का मैसेज उन्होंने उत्तराखंड में भी बीजेपी नेताओं को दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देहरादून में आयोजित जनसभा के बाद गुरुवार को हल्द्वानी में हुई जनसभा के दौरान भी एक बार फिर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की तारीफ की। सेना के हेलीपैड पर हेलीकॉप्टर में बैठने से पहले पीएम मोदी ने सीएम धामी के कंधे पर हाथ रखकर शाबासी दी और उनके अंगुली के फ्रैक्चर की सुध लेते हुए अपने हाथ का ख्याल रखने की बात भी कही। यहां एमबी इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित रैली में पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड की खुलकर मदद करने के लिए पीएम का आभार व्यक्त किया। सीएम धामी ने कहा कि उनकी सरकार जिस तेजी से विकास कार्य कर रही है और जनहित के निर्णय ले रही है, उसके पीछे प्रधानमंत्री मोदी का मार्गदर्शन और केंद्र से उत्तराखंड को निरंतर मिल रही मदद खास वजह है। मोदी ने ताली बजाकर सीएम के भाषण को सराहा।

पहाड़ी राज्य उत्तराखंड में 2017 के विधानसभा चुनाव में बहुमत हासिल करने के बाद भी बीजेपी का सफर आसान नहीं रहा है। बीजेपी को 5 साल में तीन चेहरों पर दांव खेलना पड़ा। पहले त्रिवेंद्र रावत और फिर तीरथ सिंह रावत के बाद पुष्कर सिंह धामी को चेहरा बनाया गया। उत्तराखंड के सबसे युवा मुख्यमंत्री के तौर पर धामी के लिए पार्टी को एकजुट रखना भी चुनौती है। हाल ही में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत की नाराजगी की खबर सामने आई थी। बताया जा रहा है कि हरक अपने इस्तीफे की पेशकश कर चुके थे, लेकिन धामी डैमेज कंट्रोल में कामयाब रहे।