India Times Group
वीकेंड: तीर्थनगरी ऋषिकेश में होटल, लॉज, कैंप पैक
 

ऋषिकेश। मैदानी इलाकों में भीषण गर्मी का प्रकोप है। राहत पाने के लिए वीकेंड पर बड़ी संख्या में पर्यटक तीर्थनगरी ऋषिकेश का रुख कर रहे हैं। शनिवार को पर्यटकों के दबाव के चलते ऋषिकेश और आसपास के क्षेत्र के होटल, लॉज और कैंप फुल हो गए। हाईवे पर यात्री वाहनों का दबाव बढ़ने से यातायात व्यवस्था भी लड़खड़ाती रही। इसे संभालने के लिए ट्रैफिक पुलिस और होमगार्ड के जवान पसीना बहाते रहे, लेकिन देर शाम तक स्थिति सामान्य नहीं हो सकी। दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा आदि राज्यों से पर्यटक गंगा में राफ्टिंग का रोमांच और हरीभरी वादियों में सैर सपाटे के लिए शनिवार सुबह से ही तीर्थनगरी पहुंचने शुरू हो गए थे। ऋषिकेश-हरिद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग और हरिद्वार बाईपास मार्ग पर एचआर, डीएल, यूपी नंबर के वाहन नजर आए। भारी संख्या में पर्यटकों के उमड़ने से पर्यटन व्यवसाय चमक उठा।

ऋषिकेश, मुनिकीरेती, लक्ष्मणझूला, तपोवन, गड्डूघाड़, घुघतानी, फूलचट्टी आदि क्षेत्र में होटल, लॉज और कैंपों की फुल बुक हो गई। कमरे फुल होने पर शनिवार दोपहर बाद ऑनलाइन बुकिंग बंद कर दी गई। ऋषिकेश होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय सिंह बिष्ट ने बताया कि होटल, कैंपों की एडवांस बुकिंग शुक्रवार से शुरू होने लगी थी। शनिवार दोपहर तक शत-प्रतिशत बुकिंग होने पर ऑनलाइन बुकिंग बंद कर दी गई। बताया पिछले दो सप्ताह से पर्यटन कारोबार में तेजी आयी है। कैंप संचालक वैभव थपलियाल ने बताया कि बीती शुक्रवार को ही ऑनलाइन कैंप बुक हो गये थे। कैंप में जगह न मिलने पर पर्यटकों को निराश होकर वापस लौटना पड़ा है। बताया कि स्कूलों में छुट्टियां पड़ने से भीड़ बढ़ी है। परिवार के साथ लोग गर्मी से बचने को ऋषिकेश आ रहे हैं।