India Times Group
पर्यटन सचिव ने चार धाम यात्रा व्यवस्था का किया निरीक्षण
 

ऋषिकेश। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने ऋषिकेश आईएसबीटी पर पहुंचकर चार धाम यात्रा के दौरान व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने के उपरांत बताया कि अधिकारियों के बीच आपसी तालमेल न होने के कारण यात्रियों को अपने धामों पर जाने के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उल्लेखनीय है कि सचिव पर्यटन दिलीप कुमार जावलकर और पर्यटन विभाग के सचिव सी रविशंकर ने रविवार की सुबह ऋषिकेश पहुंच कर उत्तराखंड परिवहन निगम संयुक्त रोटेशन व्यवस्था समिति, पंजीकरण कार्यालय स्वास्थ्य चिकित्सा और नगर निगम की स्वच्छता व्यवस्था का अधिकारियों संग निरीक्षण किया।

इस दौरान आईएसबीटी पर उपस्थित चार धाम यात्रा पर जाने वाले यात्रियों ने उन्हें अवगत कराया कि वह पिछले कई दिनों से धर्मशाला में अपना स्लाट के हिसाब से पंजीकरण करवाकर ठहरे हैं। परंतु उन्हें बसें उपलब्ध नहीं करवाई जा रही है ।जिस पर पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने आरटीओ प्रशासनअरविंद पांडे से बसों के संबंध में जब जानकारी उपलब्ध की तो वह संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए, जिसके बाद उन्होंने उन्हें जमकर डांट भी लगाई।

जिसके बाद उन्हें सभी विभागों से तालमेल बैठाकर यात्रियों को चार धाम यात्रा पर भेजने में सहयोग करने के लिए निर्देशित भी किया। इसी के साथ उन्होंने परिवहन निगम के प्रभारी भारती को भी रोडवेज की बसों के संबंध में जानकारी जुटाई तो उन्होंने बताया कि अभी वह चार धाम के लिए बसें उपलब्ध नहीं करवा रहे हैं उनके पास मात्र 20 बसे है। 6 बसे शेष है । जिसमें से वह दो धामों के लिए रवाना कर रहे हैं।

इसी के साथ उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की भी जानकारी जुटाई वहां भी उन्हें संतोषजनक उत्तर नहीं मिल पाया मौके पर मौजूद डॉक्टर रोहित उपाध्याय को उन्होंने तत्काल व्यवसाय के जाने के लिए निर्देशित किया।निरीक्षण के दौरान उन्होंने यात्रा परिसर सहित सुलभ शौचालय उत्तराखंड परिवहन निगम पंजीकरण कार्यालय यात्री विश्राम करो संयुक्त रोटेशन व्यवस्था समिति और आरटीओ विभाग के कार्यालय का निरीक्षण भी किया।

इस अवसर पर दिलीप जावलकर ,अपर सचिव पर्यटन सी रवी शंकर, अपर आयुक्त गढ़वाल मंडल नरेंद्र सिंह क्यूरियाल , पुलिस अधीक्षक ग्रामीण कमलेश उपाध्याय, पुलिस क्षेत्राधिकारी डीसी ढोंडियाल, नगर निगम के कार्यवाहक आयुक्त आनंद सिंह मिश्रवाण , विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।