India Times Group
उत्तराखंड पुलिस के सिपाहियों के ग्रेड-पे मुद्दे पर हाईकोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं पुलिस कर्मचारियों के परिजन, बोले ग्रेड-पे पर 7 दिन में स्थिति स्पष्ट करे सरकार
 

देहरादून। पुलिस परिवारों ने पहले रविवार को गांधी पार्क में इकट्ठा होने की राणनीति बनाई थी। इसे लेकर सोशल साइटों पर मैसेज चले। बाद में इसे बदल दिया गया। रविवार को कई पुलिस परिजन प्रेस क्लब परिसर स्थित रेस्टोरेंट पहुंचे। वहां उन्होंने प्रेस वार्ता में कहा कि सरकार इसे लेकर शासनादेश कर रही है या नहीं इस पर एक सप्ताह के भीतर स्थिति साफ कर दी जाए। ऐसा नहीं होने पर सभी 13 जिलों से बच्चों से समेत पुलिस परिवार दून में इकट्ठा होकर उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी गई। उत्तराखंड पुलिस के सिपाहियों के ग्रेड-पे के मुद्दे को लेकर पुलिस कर्मचारियों के परिजन फिर खुलकर मैदान में आ गए हैं। उन्होंने कहा कि सात में सरकार इस पर स्थिति साफ करे। नहीं तो उग्र आंदोलन करने के साथ ही हाईकोर्ट की शरण ली जाएगी।

सिपाहियों में सेवा के आधार पर 4600 ग्रेड पे दिन जाने की लंबे समय से मांग उठ रही है। इसे लेकर वह खुद तो खुलकर बोल नहीं पा रहे हैं। ऐसे में सिपाहियों के परिवार इस मुद्दे को उठा रहे हैं। बीते विधानसभा चुनाव से यह मामला तेजी से गर्माया था। तब मुख्यमंत्री ने ग्रेड पे देने की घोषणा तो कर दी। शासनादेश अब तक नहीं हुआ। कांवड़ मेला समाप्त होते ही यह मुद्दा फिर से जोर पकड़ने लगा है। प्रेस वार्ता में अशी भंडारी, शकुंतला रावत, उर्मिला चंद, पूजा फरासी, अरुणा शामिल रहे।