India Times Group

चकराता क्षेत्र के लोखंडी में हुई सीजन की पहली बर्फबारी, पर्यटकों के खिल उठे चेहरे

 

देहरादून। उत्तराखंड समेत समूचा उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। हिमालयी क्षेत्रों में हिमपात के बाद निचले इलाकों में कंपकंपी बढ़ गई है। हालांकि, अभी सर्दी और कड़ी परीक्षा ले सकती है। वहीं गुरुवार रात देहरादून के चकराता क्षेत्र के लोखंडी में सीजन की पहली बर्फबारी होने से लोगों के चेहरे खिल उठे। जबकि पछवा दून में हल्की बारिश होने से किसानों ने राहत महसूस की।

लंबे समय से किसान सूखी ठंड पड़ने से परेशान थे। गुरुवार रात में मौसम का मिजाज बदला और चकराता क्षेत्र में बर्फबारी शुरू हो गई। सुबह जब लोग नींद से जागे चारों तरफ बर्फ से ढकी पहाड़ियां देखकर ग्रामीणों के चेहरे खिल उठे। देहरादून और मसूरी में सुबह हल्‍की बूंदाबांदी के बाद धूप निकल आई। पौड़ी में हल्की बूदाबांदी के बीच बादल छाए रहे। रुद्रप्रयाग में बादल छाए रहे। कोटद्वार धूप खिली रही।

चमोली की ऊंची चोटियों पर गुरुवार रात बर्फबारी के बाद शुक्रवार की सुबह मौसम साफ बना रहा और धूप खिली रही। उत्तरकाशी में गंगोत्री और यमुनोत्री सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में देर रात को हल्की बर्फबारी हुई। जबकि वर्तमान में जिला मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रों में हल्के बादल छाए हुए हैं। वहीं नैनीताल में बारिश हुई और हिमकड गिरे।

मौसम विज्ञान केंद्र ने आगामी 14 से 19 जनवरी के बीच उत्तराखंड समेत आसपास के राज्यों में कड़ाके की ठंड को लेकर अलर्ट जारी किया है। इस दौरान मैदानी क्षेत्रों में घना कोहरा छाये रहने और सर्द हवाएं चलने से कंपकंपी बढ़ सकती है। ज्यादातर मैदानी क्षेत्रों में शीत दिवस की स्थिति बनने को लेकर चेतावनी जारी की गई है।