India Times Group
अपने पैतृक गांव से पूजा कर लौट रहा परिवार हुआ सड़क हादसे का शिकार, चार लोगों की हुई मौके पर मौत
 

पिथौरागढ़। डीडीहाट से थल की ओर आ रही कार पमतोड़ी के पास अनियंत्रित होकर 100 मीटर गहरी खाई में गिर गई। हादसे में हल्द्वानी निवासी पूर्व शिक्षक की मां, पत्नी, छोटे भाई की पत्नी और भाई की साली की मौत हो गई। पूर्व शिक्षक और उनके छोटे भाई घायल हो गए। उन्हें हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। यह परिवार अपने पैतृक गांव में पूजा कर बागेश्वर जा रहा था। हादसे का कारण चालक को झपकी आना बताया जा रहा है।

मूलरूप से थल क्षेत्र के पुनीगांव निवासी पूर्व शिक्षक चंदन सिंह बसेड़ा का परिवार हल्द्वानी में रामपुर रोड स्थित पंचायत घर इलाके में रहता है। दो दिन पहले वह अपने भाई गोविंद सिंह बसेड़ा, माता देवकी देवी (90), पत्नी तुलसी देवी (53), छोटे भाई की पत्नी आशा बसेड़ा (50) और बागेश्वर निवासी भाई की साली तारा देवी (50) पत्नी बलवंत सिंह निवासी मंडलसेरा बागेश्वर के साथ पूजा करने डीडीहाट स्थित अपने पैतृक गांव साता आए थे।

रविवार को वह पूजा करने के बाद अपनी वैगनआर कार से बागेश्वर की ओर लौट रहे थे। दोपहर करीब एक बजे थल से नौ किलोमीटर पहले पमतोड़ी के पास कार अनियंत्रित होकर लगभग 100 मीटर गहरी खाई में गिर गई। कार चला रहे चंदन सिंह छिटककर घायल हो गए। उन्होंने किसी तरह सड़क तक पहुंचकर नाचनी जा रहे युवकों को हादसे की सूचना दी। युवकों ने हादसे की सूचना नाचनी थाने को दी।

पुलिस, एसएसबी डीडीहाट, एसडीआरएफ और स्थानीय लोगों की मदद से राहत अभियान चलाया गया। हादसे में चंदन की पत्नी तुलसी देवी, छोटे भाई गोविंद सिंह बसेड़ा की पत्नी आशा बसेड़ा, और गोविंद की साली तारा देवी की मौके पर मौत हो गई। मां देवकी देवी, भाई गोविंद सिंह बसेड़ा घायल पड़े थे।