India Times Group

कैल नदी में डूबे चार किशोरों की मौत की सुलझी गुत्थी

 

थराली। विकासखंड मुख्यालय देवाल के गांव कलसिरी के नीचे कैल नदी में चार किशोरों की मौत की गुत्थी उलझ गई है। इच्छोली, सोड़िग, धरा एवं ओडर गांव के 15 से 17 साल के यह किशोर राइंका देवाल में पढ़ते थे। इन किशोरों के कपड़ों के पास नशीले पदार्थ मिलने से कई सवाल उठ रहे हैं, जिसका जवाब किसी के पास नहीं है। उपजिलाधिकारी रविंद्र जुवांठा ने कहा कि मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी। दरअसल, शनिवार को कैल नदी में बने छोटे से तालाब में राजकीय इंटर कालेज में पढ़ रहे चार बच्चों आदित्य मिश्रा, अंशुल बिष्ट, प्रियांशु बिष्ट व धर्मेंद्र मेहरा की डूबने से मौत हो गई थी।

किशोरों के कपड़े के पास मिले नशीले पदार्थ 

मृतक किशोरों के कपड़े के पास नशीले पदार्थ मिले थे, जिससे यह आशंका जाहिर की जा रही है कि कहीं यह नशे के जाल में तो नहीं फंस गए थे। थराली बार एसोसिएशन के अध्यक्ष डीडी कुनियाल, चिह्नित राज्य आंदोलनकारी परिषद के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह रावत, देवाल प्रमुख दर्शन दानू और देवाल के क्षेत्र पंचायत सदस्य प्रमोद मिश्रा आदि का कहना है कि चमोली जिले में नगरीय व कस्बाई क्षेत्र में नशे का धंधा तेजी से फैल रहा है, जिसका निशाना स्कूल और कालेजों के छात्र बन रहे हैं। इस धंधे को रोकने के लिए अभिभावकों को समय रहते आगे आना होगा। पुलिस प्रशासन को अपनी जिम्मेदारी तत्परता से निभानी होगी, तभी मौत के सौदागरों से भावी पीढ़ी को सुरक्षित रखा जा सकता हैं।