India Times Group
सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने ऋषिकेश पहुँच पंजीकरण, परिवहन और स्वास्थ्य सेवाओं का लिया जायजा
 

देहरादून/ऋषिकेश । चारधाम और हेमकुंड साहिब यात्रा के लिए आ रहे तीर्थयात्रियों को मिल रही सुविधाओं का ऋषिकेश में सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने जायजा लिया। रविवार को सचिव पर्यटन ने ऋषिकेश के पंजीकरण केंद्र पर निरीक्षण के दौरान यात्रियों को मिलने वाली सुविधाओं के बारे में पर्यटन परिवहन तथा स्वास्थ्य विभाग के संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली।

निरीक्षण के दौरान रजिस्ट्रेशन प्रभारी द्वारा अवगत कराया गया कि ऋषिकेश में कोई भी यात्री पंजीकरण हेतु लंबित नहीं है ।  सुबह से हरिद्वार स्थित पंजीकरण केंद्र में आज कुल 850 यात्रियों का पंजीकरण हुआ और अब वहां पर  भी कोई व्यक्ति पंजीकरण हेतु लंबित नहीं है। सचिव पर्यटन द्वारा निर्देश दिए गए कि जैसे ही यात्री ऋषिकेश पहुंच जाते हैं उनका पंजीकरण करते हुए उन्हें आगे की यात्रा पर जाने दिया जाए

पहले आओ पहले पाओ के आधार पर बस में सीट होगी आवंटित

सचिव पर्यटन ने परिवहन विभाग के अधिकारियों को भी निर्देश दिया कि यात्रा के दौरान किसी यात्री को परेशानी का सामना न करना पड़े। सचिव पर्यटन ने कहा कि ऐसे पंजीकृत यात्रियों को जिनके पास अपना वाहन नहीं  है उन्हें 'पहले आओ पहले पाओ के आधार पर'  बसों का आवंटन सुनिश्चित किया जाए। साथ ही उन्हें एक दिन पहले ही जानकारी दे दी जाए कि उनको किस दिन कौन सी बस से कितने बजे जाना है..  इससे यात्री अनावश्यक असुविधा से बच सकेंगे। सचिव पर्यटन ने यह भी निर्देश दिया कि जिन यात्रियों ने ग्रुप में पंजीयन कराया है उनके वाहनों को पंजीकरण करके टोकन सिस्टम से आगे भेजा जाए।  साथ ही यह जानकारी ऑनलाइन अपलोड कर दी जाए ताकि यात्रियों को किसी प्रकार की परेशानी से बचाया जा सके।

स्वास्थ्य विभाग को दिया निर्देश

सचिव पर्यटन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन यात्रियों का मेडिकल चेकअप हुआ है और स्वास्थ्य कारणों से वे यात्री आगे की यात्रा नहीं कर पा रहे हैं। उनका रिकॉर्ड रखा जाए कि वे यात्री कहाँ पर हैं? इसके साथ यात्री अगर आगे की यात्रा पर जा रहे हैं तो भी स्वास्थ्य विभाग उनका रिकॉर्ड रखे ताकि यात्री को किसी प्रकार की समस्या हो तो उन तक पहुंचा जा सके। पर्यटन सचिव ने पंजीकरण स्थल पर साफ सफाई की व्यवस्था का जायजा भी लिया। शौचालय और परिसर साफ सुथरा रहे इसके लिए नगर निगम को निर्देश दिए गए।

इस दौरान अपर सचिव पर्यटन सी रविशंकर  अपर आयुक्त गढ़वाल नरेंद्र क्यूरियाल, उप जिलाधिकारी ऋषिकेश शैलेंद्र नेगी, जिला पर्यटन विकास अधिकारी देहरादून जसपाल चौहान आदि उपस्थित रहे।