India Times Group
सुरक्षा मानकों का जायजा लेने के बाद मिलेगी अनुमति, 20 मई से शुरू होगी ऑनलाइन बुकिंग
 

देहरादून। केदारनाथ धाम हेली सेवा का निरीक्षण करने के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) की टीम मंगलवार को उत्तराखंड आएगी। गुप्तकाशी, सिरसी और फाटा हेलीपैडों पर सुरक्षा और हेलीकॉप्टर में तकनीकी मानकों का जायजा लेने के बाद हेेली सेवा संचालित की अनुमति मिलेगी। उधर, उत्तराखंड नागरिक उड्डयन प्राधिकरण(यूकाडा) ने 20 मई से पांच जून तक केदारनाथ हेली सेवा की ऑनलाइन बुकिंग खोल दी है। केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को खुल रहे हैं। कपाट खुलते ही बाबा केदार के दर्शनों के श्रद्धालु पहुंचने लगेंगे। पैदल यात्रा न करने वाले तीर्थ यात्रियों की सुविधा के लिए गुप्तकाशी, सिरसी और फाटा से नौ एविएशन कंपनियों की ओर से हेली सेवा संचालित की जाती है।

यूकाडा ने तीन अप्रैल से हेली सेवा की ऑनलाइन बुकिंग शुरू की थी। दो दिन के भीतर ही 6 से 30 मई तक हेली सेवा की बुकिंग फुल हो गई। यूकाडा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सोनिया ने बताया कि हेली सेवा संचालन करने से पहले डीजीसीए की अनुमति ली जाती है। 3 व 4 मई को डीजीसीए की टीम निरीक्षण करने के लिए उत्तराखंड आएगी। टीम की ओर से हेलीपैड के साथ हेलीकॉप्टर की फिटनेस से संबंधित तकनीकी जायजा लिया जाएगा। इसके बाद डीजीसीए की ओर से अनुमति दी जाएगी। उन्होंने बताया कि 20 मई से पांच जून के लिए हेेली सेवा के लिए ऑनलाइन बुकिंग खोल दी गई है।