India Times Group
निमंत्रण पत्र दिया है कनपटी पर बंदूक थोड़े ही रखी है :- रेखा आर्य
 

देहरादून। उत्तराखंड की फायर ब्रांड मंत्री रेखा आर्या और विवादों का चोली दामन का साथ हो गया है। कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या के साथ विवाद थमता नहीं कि दूसरा शुरू हो जाता है। इस बार मंत्री के विभाग की एक चिट्टी वायरल होने से बवाल हो गया है। मंत्री के उत्तर प्रदेश स्थित बरेली आवास में धार्मिक अनुष्ठान के लिए विभागीय पत्र जारी किया गया है। जिसमें सभी अधिकारियों को आमंत्रण दिया गया है साथ ही अपने सभी अधीनस्थों को भी आमंत्रित करने को कहा गया है।

विभागीय पत्र जारी करने के बाद विपक्ष को मुद्दा मिल गया है। विभागीय पत्र जारी करने पर विवाद उत्तराखंड की खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री रेखा आर्य के विभाग का एक पत्र तेजी से वायरल हो रहा है। जिस पर कांग्रेस समेत आम आदमी पार्टी ने भी आपत्ति जताई है। विभागीय पत्र में विभाग के सभी अधिकारी और कर्मचारियों को 04 अगस्त से 09 अगस्त तक विभागीय मंत्री रेखा आर्य के बरेली स्थित निजी आवास में आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया है। खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री के निजी आवास पर धार्मिक अनुष्ठान के लिए सरकारी चिट्टी को निमंत्रण बनाने और इसकी भाषा पर विपक्ष ने आपत्ति दर्ज कराई है।

कनपटी पर बंदूक रखकर नहीं दिया निमंत्रण:- रेखा आर्य
वहीं आज जब इस मामले को लेकर पत्रकारों ने खाद्य मंत्री रेखा आर्य से सवाल किया तो उन्होंने विवादित बयान देते हुए कहती है कि मैंने किसी की कनपटी पर बंदूक रखकर निमंत्रण नहीं दिया है, जिसको आना है वह अपनी मर्जी से आ सकता है। हालांकि, वह कहती हैं कि वह पता करेंगे कि यह पत्र किस स्तर पर लिखा गया है। मंत्री रेखा आर्य का कहना है कि यह व्यक्तिगत कार्यक्रम है। जिसे वह अपने खर्च से आयोजित करवा रही हैं। उन्होंने विपक्ष को बेवजह इस मामले को तूल देने का आरोप लगाया है। मंत्री ने इस धार्मिक कार्य में सबको शामिल होने का निमंत्रण दिया है।

बता दें कि रेखा आर्य वही मंत्री हैं जो लगातार अधिकारियों के साथ आपसी विवाद को लेकर चर्चाओं में रहती हैं। इस बार यह पत्र मंत्री की हनक के रूप में देखा जा रहा है। ऐसा इसलिए, क्योंकि मॉनसून के कारण जहां प्रदेश में कर्मचारी अधिकारियों की छुट्टियां कैंसिल की गई है। सभी को अपनी नियुक्ति स्थल पर रहने के लिए कहा गया है। वहीं, मंत्री अपने विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को निजी कार्यक्रम के तहत निमंत्रण दे रही हैं।

करन माहरा ने बताया अपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति
विवाद इस बात पर है कि विभाग के अधिकारी द्वारा इस निमंत्रण को सरकारी पत्र के रूप में लिखा जा रहा है। इस मामले में करन माहरा कहते हैं कि रेखा आर्य जिस तरह की भाषा का उपयोग कर रही हैं। वह किसी अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति द्वारा ही कही जा सकती है। करन माहरा ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उनकी उन बातों को याद दिलाई है, जिसमें उन्होंने मॉनसून के दौरान अधिकारी कर्मचारियों को अपनी नियुक्ति स्थल पर रहने की बात कही थी।

[video width="640" height="352" mp4="https://rashtramedia.com/wp-content/uploads/2022/07/Video-1.mp4"][/video]

वायरल पत्र में क्या
माननीय खाद्य मंत्री जी के कार्यालय द्वारा अवगत कराया गया है कि दिनांक 04.08.2022 से दिनांक 09.08.2020 तक श्री बाबा बनखण्डी नाथ एवं आदरणीय परमगुरू श्री हरि गिरी जी महाराज राष्ट्रीय महामंत्री एवं मुख्य संरक्षक श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा, हरिद्वार की कृपा से बाबा बनखण्डी नाथ मंदिर, जोगी नवादा, बरेली (उ०प्र०) में 108, शिवलिंग किया जा रहा है। मां बगुलामुखी माता एवं नन्दी बाबा की प्राण प्रति प्रतिष्ठा कार्यक्रम किया जा रहा है। मा० मंत्री जी के कार्यालय द्वारा निमंत्रण पत्र इस आशय के साथ उपलब्ध कराये गये है कि समस्त खाद्य विभाग के अधिकारी / कार्मिकों को निमंत्रण पत्र उक्त आयोजन में आमंत्रण हेतु उपलब्ध करा दिये जायें। अतः उपरोक्त के क्रम में आमंत्रण पत्र संलग्न कर इस आशय के साथ प्रेषित किये जा रहे हैं कि कृपया अपने अधिनस्थ को भी उपलब्ध कराने का कष्ट करें।