India Times Group
आगामी चारधाम यात्रा के दृष्टिगत SDRF उत्तराखंड पुलिस दे रही आपदा प्रबन्धन का प्रशिक्षण।
 

देहरादून। उत्तराखंड राज्य पर्यटन व धार्मिक यात्राओं के लिए विश्व विख्यात है। यात्राकाल के दौरान देश भर से लाखों श्रद्धालु व पर्यटक दर्शन व पर्यटन हेतू उत्तराखंड आते है। उत्तराखंड राज्य की चारधाम यात्रा, श्री हेमकुंड साहिब यात्रा, कैलाश मानसरोवर यात्रा इत्यादि विश्व प्रसिद्ध है।

SDRF (राज्य आपदा प्रतिवादन बल) गठन के पश्चात से ही राज्य में आपदा के प्रति संवेदनशील स्थानों पर तैनात है तथा निरंतर रेस्क्यू, जनजागरूकता व प्रशिक्षण अभियानों के माध्यम से मानव/आपदा क्षति न्यूनीकरण की दिशा में कार्यरत है।

आगामी चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं व पर्यटकों के आवागमन के दौरान किसी भी प्रकार की मानवजनित अथवा प्राकृतिक दुर्घटना के दृष्टिगत SDRF उत्तराखंड पुलिस तैयारियां कर रही है। SDRF द्वारा राज्य के विभिन्न जनपदों से समन्वय

स्थापित करते हुए पुलिस बल, पीआरडी, होमगार्ड, स्वयंसेवकों, आपदा मित्रों, स्थानीय जनता इत्यादि को आपदा प्रबंधन, आपदा के दौरान राहत एवं बचाव कार्यों, प्राथमिक चिकित्सा, रोप रेस्क्यू इत्यादि का प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिससे अन्य इकाइयां भी राहत एवं बचाव कार्यो में सहयोग प्रदान कर सके, इसके साथ ही SDRF द्वारा समय समय पर मॉक ड्रिल में भी प्रतिभाग किया जा रहा है जिससे किसी भी प्रकार की घटना में प्रतिवादन की पूर्व तैयारी की जा सके।

इसी क्रम में आज दिनाँक 18 अप्रैल 2022 को SDRF द्वारा जनपद देहरादून के देवभूमि फाउंडेशन, बद्रीपुर व रिस्पना पूल के निकट शिवालिक एजुकेशनल सोशल वेलफ़ेयर ह्यूमन रिसोर्स सोसायटी में आपदा मित्रों को राहत एवं बचाव कार्यो का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण के दौरान SDRF प्रशिक्षकों द्वारा आपदा मित्रों को आपदा के दौरान राहत एवं बचाव कार्यों की गहन जानकारी दी गयी। इसके साथ ही प्राथमिक चिकित्सा के अंतर्गत सीपीआर देना, घाव की ड्रेसिंग करना, स्पलिंट बांधकर टूटी हुई हड्डी को स्थिर करना इत्यादि महत्वपूर्ण जानकारियां दी गयी और अभ्यास भी कराया गया।