India Times Group

लावारिस घूमने वाले बच्चों को चोरी कर बेचने वाले एक शातिर को हरिद्वार पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

हरिद्वार। बस अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर लावारिस घूमने वाले बच्चों को चोरी कर बेचने वाले एक शातिर आरोपित को हरिद्वार पुलिस ने बदायूं उत्‍तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है। उसकी निशानदेही पर देहरादून व बदायूं में बेचे गए दो बच्चे भी बरामद किए गए हैं। एक बच्चे को गाजियाबाद और दूसरे को दिल्ली से चोरी किया गया था। पुलिस अब इन बच्चों के मां-बाप के बारे में जानकारी जुटा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि 21 अगस्त को लक्सर की महिला ने अपनी नाबालिग पुत्री के अपहरण और दुष्कर्म करने का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने जांच की तो आरोपित मोहम्मद मुस्ताक कादरी निवासी सिरसौल पट्टी सीताराम बदायूं उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसने पहले भी दो बच्चों को चोरी किए हैं, जिसको उसने एक देहरादून में और दूसरा बदायूं में बेचा था। दोनों बच्चों को पुलिस ने बरामद कर लि‍या है। अब उनके माता-पिता की तलाश की जा रही है।  एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपित मुस्ताक कादरी ने चाइल्ड हेल्पलाइन और प्रयास अनाथालय दिल्ली के फर्जी दस्तावेज तैयार किए थे। वह बस और रेलवे स्टेशनों पर लावारिस घूम रहे बच्चों को निशाना बनाता था और चाइल्ड हेल्प लाइन कार्ड के जरिये बच्चों की रैकी करता था।

आरोपित अत्यधिक जरूरतमंद लोगों को बच्चा गोद दिलाने के नाम पर मोटी रकम लेता था। लगभग एक वर्ष के बच्चे को दिल्ली बस अड्डे से और एक बच्चे को गाजियाबाद से चोरी कर लोगों को देहरादून व बदायूं में बेच दिया था। दिल्ली से चोरी बच्चे की एफआइआर भी हुई थी।