India Times Group
देहरादून समेत कई इलाकों में आज सुबह से रिमझिम बारिश का सिलसिला शुरु, कई जिलों में स्कूल बंद
 

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम के तेवर तल्ख हो गए हैं, ज्यादातर क्षेत्रों में बादलों के डेरे के बीच हल्की से मध्यम वर्षा का क्रम जारी है। पर्वतीय क्षेत्रों में दुश्वारियां बढ़ गई हैं। जगह-जगह भूस्खलन से मार्ग बंद हैं और चारधाम यात्रा भी प्रभावित है। वहीं देहरादून सहित राज्‍य के अधिकतर इलाकों में गुरुवार देर रात से रुक-रुक कर बारिश हो रही है।

बार-बार बंद हो रहा चारधाम यात्रा मार्ग

रुद्रप्रयाग जिले में रात्रि से बारिश हो रही है। जिस कारण बदरीनाथ हाईवे सिरोबगड़ में अवरूद्ध हो गया है। केदारनाथ हाईवे गौरीकुंड में नौलापाणी में बंद हो गया है।

उत्तरकाशी में हल्की वर्षा हो रही है। गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच अवरुद्ध है। जबकि यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग सिल्क्यारा के पास दो घंटे अवरुद्ध रहने के बाद यातायात के लिए खोल दिया गया है।

ऋषिकेश बदरीनाथ हाईवे व्यासी के पास चार घंटे से अवरुद्ध

पर्वतीय क्षेत्र में हो रही निरंतर वर्षा के कारण ऋषिकेश बदरीनाथ हाईवे पर व्यासी के समीप भूस्खलन हो गया। भारी मलबा आने से यह मार्ग अवरुद्ध हो गया। सुबह करीब पांच बजे इस मार्ग पर मलबा आया। जिसे खोलने के लिए मशीनें लगाई गई हैं। सड़क के दोनों और वाहनों की लाइन लग गई।

मुनिकीरेती के थाना प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने बताया कि मार्ग पर फिलहाल वाहनों की आवाजाही रोकी गई है, ताकि भूस्खलन प्रभावित क्षेत्र के आसपास जाम के हालात पैदा ना हो।

शुक्रवार के लिए भी भारी वर्षा का रेड अलर्ट जारी

कई गांवों का संपर्क बाजार और जिला मुख्यालयों से कट गया है। जिसके मद्देनजर आठ पर्वतीय जिलों पिथौरागढ़, बागेश्वर, चंपावत, अल्मोड़ा, नैनीताल, पौड़ी, चमोली व रुद्रप्रयाग में विद्यालयों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।