India Times Group
नशा मुक्त देवभूमि की परिकल्पना को साकार करने के लिए दून पुलिस ने बढ़ाए कदम
 

देहरादून। उत्तराखण्ड  के मुख्यमंत्री "ड्रग फ्री देवभूमि" के विजन 2025 के तहत देवभूमि को ड्रग फ्री करने का लक्ष्य रखा गया है। उक्त अभियान को सफल बनाने तथा जनपद देहरादून को नशा मुक्त करने में दून पुलिस की सहभागिता बढाने के उद्देश्य से आज  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून द्वारा देहरादून के समस्त राजपत्रित अधिकारियों, शाखा/ थाना प्रभारियों को अपनी-अपनी शाखाओ व थानों में नियुक्त पुलिस कर्मियों को नशे के उन्मूलन के संबंध में शपथ दिलाने हेतु निर्देशित किया गया था।

जिसके तहत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा स्वयं पुलिस लाइन देहरादून, पुलिस अधीक्षक अपराध  पुलिस कार्यालय देहरादून, पुलिस अधीक्षक यातायात द्वारा यातायात कार्यालय तथा सभी क्षेत्राधिकारियों व थाना प्रभारियों द्वारा अपने-अपने सर्किल व थानों में नियुक्त पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों को ड्रग्स का सेवन न करने तथा ड्रग्स का सेवन करने वाले व्यक्तियों में अपेक्षित सुधार लाने का प्रयास करने तथा ड्रग्स बेचने वालों के विरूद्ध कठोर वैधानिक कार्यवाही करने की शपथ दिलाई गयी।

जनपद देहरादून के विभिन्न थानों तथा शाखाओं में नियुक्त लगभग ढाई हजार (2500) पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा नशा उन्मूलन की शपथ ली गयी।

“शपथ”

मैं, शपथ लेता हूँ कि अनुशासित रहकर जनपद देहरादून में नशा उन्मूलन में अपना पूर्ण सहयोग दूँगा। मैं , ड्रग्स सेवन कभी नहीं करूँगा व अपने परिवार के सदस्यों को ड्रग्स के विरूद्ध सजग व सतर्क करूँगा। ड्रग्स सेवन करने वालों में अपेक्षित सुधार लाने, उन्हें सामान्य जीवन यापन के लायक बनाने में अपना पूर्ण सृजनात्मक एवं सकारात्मक सहयोग प्रदान करूँगा । मैं, ड्रग्स बेचने वालों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने में विभाग को शत-प्रतिशत सहयोग करूँगा । मैं , कभी भी ड्रग्स के कारोबार में लगे अपराधियों को सहयोग नहीं करूँगा। ड्रग्स उन्मूलन में, मेरे किसी भी गंभीर अनुशासनहीनता पर विभाग मेरे विरूद्ध कठोर दण्डात्मक कार्यवाही के लिए स्वतन्त्र रहेगा ।