India Times Group
यूपी की तर्ज पर विकास की रफ्तार बढ़ाने के लिए सलाहकार रखेगी धामी सरकार, अगले पांच साल में जीडीपी को दोगुना करने का लक्ष्य
 

देहरादून। उत्तराखंड सरकार के आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक, 2021-22 में राज्य की आर्थिक विकास दर 6.13 प्रतिशत का अनुमान है। प्रचलित भाव पर राज्य का घरेलू उत्पाद दो लाख 53 हजार 832 करोड़ रुपये आंका गया। जानकारों के मुताबिक, अगले पांच साल में इसे पांच लाख करोड़ रुपये से अधिक तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार को चार गुनी ताकत से काम करना होगा। सचिव नियोजन आर मीनाक्षी सुंदरम कहते हैं, सरकार इस दिशा में गंभीरता से विचार कर रही है। प्रयास भी शुरू हो गए हैं।

यूपी की तर्ज पर उत्तराखंड की धामी सरकार भी विकास की रफ्तार बढ़ाने के लिए सलाहकार रखने जा रही है। नियोजन विभाग में इस प्रस्ताव पर काम शुरू हो गया है। प्रदेश सरकार का इरादा अगले पांच साल में राज्य की विकास दर को दोगुना करने का है। इसके लिए अगले पांच साल में सरकार अवस्थापना, पर्यटन, उद्यानिकी, नए शहरों का निर्माण, आयुष व वेलनेस और उच्च शिक्षा के क्षेत्र में निवेश दोगुनी गति से बढ़ाने पर जोर देगी। उत्तरप्रदेश सरकार ने अपनी अर्थव्यवस्था को विस्तार देने के लिए कंसलटेंट रखा है। सचिव नियोजन आर मीनाक्षी सुंदरम कहते हैं कि राज्य सरकार भी कंसलटेंट की तैनाती करने पर विचार कर रही है। नियोजन विभाग इस पर काम कर रहा है।
राज्य की जीडीपी को दुगना करने के लिए राज्य सरकार अगले पांच सालों में खास सेक्टरों पर काम करने जा रही है।

सचिव, नियोजन आर मीनाक्षी सुंदरम राज्य सरकार आर्थिक विकास दर के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को लेकर चल रही है। हम अगले पांच साल में जीडीपी को दोगुना करना चाहते हैं। इसके लिए हमने विकास के कुछ क्षेत्र चुने हैं और इसके लिए एक कार्ययोजना बना रहे हैं। यूपी ने वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए उसने कंसलटेंसी रखी है। हम भी उसी तरह की प्रक्रिया अपना रहे हैं।

अवस्थापना पर फोकस
इनमें सबसे अहम सेक्टर अवस्थापना विकास से जुड़ा है। केंद्र पोषित और वाह्य साहयति योजनाओं में निवेश बढ़ाकर सरकार विकास की गति को तेजी देना चाहती है। वाह्य सहायतित योजनाओं में सरकार के अगले पांच साल में 18 हजार करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य है।

पर्यटन क्षेत्र का विकास
रोड कनेक्टिविटी के साथ-साथ सरकार पर्यटन क्षेत्र के विस्तार पर फोकस करेगी। राज्य सरकार का अगले पांच से 10 सालों में प्रदेश में 100 फाइव स्टार स्तर के होटल में निवेश को आकर्षित करना है। रोपवे और हवाई कनेक्टिविटी को भी विस्तार देना है।

उद्यानिकी पर जोर
राज्य सरकार का अब उद्यानिकी के क्षेत्र पर खास फोकस होने जा रहा है। इस सेक्टर निवेशक के साथ उत्तराखंड एकीकृत उद्यानिकी विकास परियोजना पर जोर देगी। 526 करोड़ के इस प्रोजेक्ट के लिए सरकार जाइका से धन जुटाने का प्रयास कर रही है।

इन क्षेत्रों पर भी रहेगा विशेष फोकस
- सरकार नए शहरों को नियोजित ढंग से विकसित करेगी
- आयुष और वेलनेस टूरिज्म को प्रोत्साहित किया जाएगा
- राज्य को उच्च शिक्षा का हब बनाने के भी प्रयास होंगे

जल्द ये कदम भी उठाएगी सरकार
-निवेश को बढ़ावा देने के लिए सम्मेलन होंगे
-भूमि की उपलब्धता के लिए लैंड बैंक बनेगा
-उद्योग एवं पर्यटन नीति में सुधार किए जाएंगे
-विभागों की क्षमता में विकास करने पर जोर