India Times Group
टिहरी झील में दिल्ली के पर्यटक की बिगड़ी तबियत, तीन कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा
 

देहरादून। टिहरी बांध की झील में पीपीपी मोड पर संचालित फ्लोटिंग हट में एक पर्यटक को ली-रॉय कंपनी के कर्मचारी ने पेट्रोल की बोतल में पानी पिला दिया। इससे पर्यटक की तबीयत खराब हो गई। पुलिस ने मामले में ली रॉय कंपनी के तीन कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोतवाली निरीक्षक कमल मोहन भंडारी ने बताया कि दिल्ली निवासी उमेश गुप्ता ने थाने में दी तहरीर में बताया कि शुक्रवार रात को वह टिहरी झील में संचालित फ्लोटिंग हट में रुके थे। बताया कि उन्होंने ऑनलाइन 25 हजार रुपये देकर हट बुक कराई थी। इसमें कंपनी को स्लीपिंग व्यवस्था के साथ, पानी, चाय आदि भी उपलब्ध करानी थी।

रात को जब उन्होंने वेटर से पानी मांगा तो वह एक बोतल में पानी लेकर आया। जैसे ही उन्होंने पानी पिया उसमें पेट्रोल की बदबू आई। देखते ही देखते उन्हें उल्टी हुई और तबीयत खराब हो गई। इसकी शिकायत कंपनी के कर्मचारियों से की, लेकिन उन्होंने कोई मदद नहीं की। आरोप लगाया कि टिहरी झील में लोगों से मनमाने दाम वसूले जा रहे हैं। शिकायत पर पुलिस मौके पर पहुंची थानाध्यक्ष ने बताया कि ली-रॉय कंपनी के खिलाफ पूर्व में भी कई शिकायतें मिली हैं। उन्होंने बताया कि कंपनी के मैनेजर मानवेंद्र सिंह, दिनेश कुमार और हीरा सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 284 के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि पर्यटक वापस दिल्ली चला गया है।