India Times Group
जन स्वास्थ्य के महत्वपूर्ण इकईयों के निर्माण कार्य हों समय से पूर्व सम्पादित- डॉ आर राजेश कुमार
 

देहरादून। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधियों के साथ दिनांक 30जुलाई 2022 को डॉ.आर राजेश कुमार प्रभारी सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग एवं मिशन निदेशक एनएचएम की अध्यक्षता में निर्माण कार्यों की प्रगति के संदर्भ में एक समीक्षा बैठक आहूत की गई। बैठक में विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं जैसे पेय जल निगम, ब्रीडकुल, ब्रिज एंड रूफ, क़ृषि मंडी, राजकीय निर्माण निगम, सिंचाई विभाग आदि के प्रीतिनिधियों ने प्रतिभाग किया। समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी सचिव ने कार्यदायी संस्थाओं को वनजबवउम वतपमदजमक कंस्ट्रक्शन के आधार पर निर्माण करने की आवश्यकता है। निर्माण कार्यों की गुणवता पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है।

उक्त बैठक के दौरान 300 बेडेड मल्टीस्पेशलिटी कैंसर अस्पताल, हरावाला जो कि राज्य का पहला कैंसर मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल है जैसी महत्वपूर्ण स्वास्थ्य इकाई की समीक्षा की गई तथा इससे संबंधित निर्माणदायी संस्था ब्रिज एंड रूफ द्वारा निर्माण कार्यों में आने वाली बधाओं एवं चुनौतियों को प्रभारी सचिव डॉ आर राजेश कुमार के समक्ष रखा गया। प्रभारी सचिव ने मल्टीस्पेशलिटी कैंसर अस्पताल को राज्य के आम समुदाय के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण बताते हुए इसे शीघ्र अति शीघ्र सम्पादित किये जाने पर बल दिया।

इसी श्रृंखला में हल्द्वानी का 200 बैडेड मेटरनल चाइल्ड ीमंसजी(डब्भ् ूपदह), उप जिला चिकित्सालय का निर्माण कार्य गतिमान है जिसकी प्रगति नियमानुसार गतिमान है एवं समय से पूर्व सम्पादित हो जाएगी। इसी क्रम में 200 बेडेड अस्पताल की डब्भ् विंग निर्माण आधीन कार्यदायी संस्था पेय जल निगम की प्रगति संतोषजनक है एवं समय से अंत तक पूर्ण हो जाएगी।

प्रभारी सचिव द्वारा सभी गतिमान कार्यों की समीक्षा करते हुए डेडलाइन पर कार्यों के किये जाने पर बल दिया है तथा निर्माण साइट की वर्तमान स्थिति को पूर्ण रूप से जानने के लिए संस्थाओं से लेटेस्ट पिक्चर्स एवं लेटेस्ट डेट्स के साथ प्रस्तुत करने के निर्देश दिए साथ ही उन्होंने कहा कि वह स्वयं इन कार्यों का जायजा लेने के लिए निर्माण साइट पर जाएंगे। डॉ आर राजेश कुमार ने गुणवता को प्राथमिकता देते हुए मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए इन निर्माण कार्यों को ततपरता के साथ बिना किसी विलम्ब के समाप्त करने के संबंधितों को निर्देश निर्गत किये एवं 15 दिन बाद पुनः प्रगति समीक्षा बैठक आहूत किये जाने के आदेश दिए।

प्रभारी सचिव द्वारा अंततः संस्थाओं को निर्देशित किया गया कि जिन भी स्वास्थ्य इकाइयों के निर्माण कार्य अंतिम चरण पर हैं उनकी सूची कार्यालय को प्रेक्षित की जाये ताकि समयानुसार इनका शिलान्यास एवं लोकार्पण जन प्रतिनिधियों द्वारा कराया जाये ताकि जनता को इसका लाभ मिल सके।