India Times Group
ईडी दफ्तर पर गरजे कांग्रेसी, सोनिया व राहुल के नोटिस पर चढ़ा पारा
 

देहरादून। नेशनल हेराल्ड प्रकरण में कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस देने के खिलाफ कांग्रेस ने ईडी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि केंद्र सरकार विपक्ष का उत्पीड़न करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का दुरूपयोग कर रही है।

ईडी की नोटिस की कार्यवाही इसी साजिश का हिस्सा है। आजादी के आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले नेशनल हेराल्ड अखबार की रक्षा के कांग्रेस ने उसकी आर्थिक सहायता की थी। इसमें एक पैसे की भी अनियमितता नहीं हुई है। वर्ष 2012 में केंद्रीय चुनाव आयोग और वर्ष 2015 में खुद ईडी इससे जुड़े आरेापों को खारिज कर चुके हैं।
लेकिन कांग्रेस केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों का लगातार विरोध कर रही है, इसलिए केंद्र की भाजपा सरकार द्वेष की भावना के साथ कांग्रेस नेताओं के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि कांग्रेस केंद्र सरकार के इस प्रकार आचरण से डरने वाली नहीं है।

कांग्रेस देश और लोकतंत्र विरोधी ताकतों से सदैव लड़ती रहेगी। कभी झुकेगी नहीं पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने भी केंद्र और राज्यों की भाजपा सरकारों पर हमला बोला। कहा कि भाजपा का असली चेहरा सामने आ चुका है। आज देश में जिस प्रकार के हालात है, उसकी वजह भाजपा है। कांग्रेस ने हमेशा सभी को साथ लेकर जोड़ते हुए चलने वाली पार्टी है। जबकि भाजपा का एकमात्र एजेंड़ा विभाजनकारी नीतियां आगे बढ़ाना है। इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह करीब सवा ग्यारह बजे ही क्रास रोड स्थित ईडी के दफ्तर पहुंच गए थे। ईडी दफ्तर के सामने धरना देते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कहा कि केंद्र सरकार लाख कोशिश कर ले, कांग्रेस की किसी दबाव में आने वाली नहीं है।  इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष-संगठन मथुरादत्त जोशी, महामंत्री पीके अग्रवाल,पूर्व काबीना मंत्री दिनेश अग्रवाल, पूर्व विधायक राजकुमार, महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. प्रदीप जोशी, मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि, लक्ष्मी अग्रवाल, मनीष नागपाल, मीना रावत, शांति रावत, परिणिता बडोनी आदि मौजूद रहे।