India Times Group
भाजयुमो पत्रिका युवा लेखकों के एक साथ जुड़ने का एक शानदार मंच
 

देहरादून। भारतीय जनता युवा मोर्चा का राष्ट्रीय पत्र का मई माह का अंक समान नागरिक संहिता पर प्रकाशित हुआ है। इस मासिक पत्रिका प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने भी स्वयं अपने लेख में उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता की आवश्यकता और उसके महत्व, और उसके परिणामों की गंभीरता पर प्रकाश डाला है। जनहित के ऐसे ज्वलंत मसले पर निकल रही पत्रिका का यह अंक अपने आप में खास प्रासंगिता लिए होगा।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनोज पटवाल ने बताया कि भाजयुमो की ओर से हर माह राष्ट्रीय पत्र का प्रकाशन किया जाता है। जिसमें जन हित के तमाम मुद्दों को प्राथमिकता से रखा जाता है। मई माह का युवा मोर्चा के राष्ट्रीय पत्र समान नागरिक संहिता विषय पर केंद्रित है। इसमें संहिता की आवश्यकता, उसके महत्व और उसकी प्रासंगिकता के विषय पर आधारित कई नए और नामी लेखकों के लेख शामिल किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय स्तर पर प्रकाशित होने वाली भाजयुमो की यह पत्रिका समकालीन मुद्दों पर कॉलेज के छात्रों, पेशेवर लेखकों और युवा लेखकों के एक साथ जुड़ने का एक शानदार मंच है। इसका उद्देश्य समकालीन मुद्दों पर सार्वजनिक चर्चा का नेतृत्व करने के लिए युवा लेखकों के एक पूल का निर्माण कर उसे पोषित करना है। मोर्चा का यह प्रयास वैचारिक और नीतिगत मुद्दों पर पार्टी और युवाओं के बीच की दूरियों को पाटने के अलावा पढ़ने और लिखने की संस्कृति को भी निश्चित रूप से बढ़ावा देगा।

मनोज पटवाल ने कहा पत्रिका प्रकाशन की इस पहल को गत अक्टूबर 2021 में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जे.पी. नड्डा जी द्वारा लॉन्च किया गया था। और तब से, लगभग 100 लेखकों के साथ 105 लेखों के योगदान के साथ सात मासिक संस्करण प्रकाशित हुए हैं।

उन्होंने कहा मई माह का अंक समान नागरिक संहिता जैसे अहम मसले के साथ एक बड़ी जिम्मेदारी के साथ समाज को दिशा प्रदान करने की भूमिका में होगा।