India Times Group
उत्तराखंड में अवैध खनन में वर्चस्व को लेकर भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, दो सगे भाई घटना के बाद फरार
 

किच्छा। शांतिपुरी में अवैध खनन में वर्चस्व को लेकर शनिवार को दो सगे भाइयों ने स्थानीय गौला नदी स्थित अवैध खनन स्थल पर विवाद के बाद भाजपा के पूर्व मंडल महामंत्री की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद दोनों हत्यारोपी सगे भाई मौके से फरार हो गए। गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने हत्यारोपियों की मां, पिता व आरोपियों की पत्नियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। जानकारी के मुताबिक,शांतिपुरी नंबर 3 स्थित सिजवाली घाट पर बंद पड़े खनन पट्टे में संदीप कार्की शांतिपुरी नंबर 4 निवासी पंकज जोशी, मनमोहन कोरंगा और हत्यारोपी सगे भाई ललित मेहता और दीपू मेहता अवैध खनन करा रहे थे। शांतिपुरी नंबर 4 निवासी पंकज जोशी, मनमोहन कोरंगा, शांतिपुरी नंबर 3 निवासी दो सगे भाई ललित मेहता, दीपू मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता के मध्य खनन वर्चस्व को लेकर कई दिनों से विवाद चल रहा था।

शनिवार सुबह करीब 9.30 बजे मेहता बंधुओं व शांतिपुरी नंबर 4 निवासी पंकज जोशी से खनन एवं निकासी मार्ग को लेकर अचानक विवाद बढ़ गया। आरोप है कि इसी बीच ललित मेहता ने पंकज जोशी पर फायर झोंकने की कोशिश की तो पंकज जोशी अपनी जान बचाते हुए कुछ दूरी पर स्थित संदीप कार्की की भाभी माया कार्की के घर में छुप गया।

जिसके बाद बीच-बचाव करने आए भाजपा नेता संदीप कार्की को ललित ने गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल संदीप को उसके परिजन पहले किच्छा व बाद में रुद्रपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में उपचार उपचार के लिए ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। भाजपा नेता की मौत की खबर से क्षेत्र में सनसनी फैल गई और कई पार्टी कार्यकर्ता अस्पताल को कूच कर गये।

वहीं पुलिस ने हत्या आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश देना शुरू कर दिया है। पुलिस ने हत्यारों की मां पिता और पत्नियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का मौका- मुआयना किया। एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने कहा कि आरोपियों की धरपकड़ के लिए टीमें गठित कर दी गयी हैं।