India Times Group
आखिर क्यों रखते है आर्मी वाले अपने साथ तेंदुए का पेशाब ?
 

अजब गजब। हमारी भारतीय सेना अपने हर मिशन के लिए महत्वपूर्ण वस्तुओं को ढ़ोने के साथ-साथ तेंदुएं का पेशाब भी रखती है। सैनिक जब भी किसी घने जंगल की ओर जा रहे होते हैं, तो वे अपने जूतों या फिर लोवेर्स पर तेंदुएं के पेशाब को स्प्रे कर लेते हैं। जिसके चलते जैसे ही कुत्तों को यह सुगंध अनुभव होता है, सारे कुत्ते उस क्षेत्र को अपने आप ही खाली कर देते हैं। आपको बता दें साल 2016 में पाकिस्तान में घुसकर भारतीय सेना द्वारा किया गया ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ आज भी दुनिया की जुबान पर है।

राजेंद्र निंबोरकर ने बताया कि पाकिस्तान की सीमा में 15 किलोमीटर अंदर जाने के बाद भारतीय सेना ने तेंदुए के मल-मूत्र का इस्तेमाल किया था, ताकि कुत्तों को शांत रखा जाए। उन्होंने बताया कि सीमा पर आसपास के जंगलों में हमने देखा है कि तेंदुए अक्सर कुत्तों पर हमला करते हैं और इन हमलों से खुद को बचाने के लिए कुत्ते रात को बस्ती में ही रहते हैं।