India Times Group

शिमला के नारकंडा और पर्यटन नगरी मनाली में हुई सर्दी की पहली बर्फबारी

 

हिमाचल। प्रदेश में सोमवार को एक बार फिर मौसम ने करवट ली है। शिमला, मंडी, कुल्लू, चंबा, लाहौल-स्पीति में बर्फबारी और बारिश हुई है। प्रदेश में 128 सड़कें यातायात के लिए अवरुद्ध हो गई हैं। शिमला के नारकंडा और पर्यटन नगरी मनाली में सर्दी की पहली बर्फबारी हुई है। सोमवार सुबह मनाली में बर्फ के फाहे गिरे। पर्यटकों ने होटलों से बाहर आकर बर्फबारी का आनंद लिया। रोहतांग दर्रा में दो फीट के करीब बर्फबारी होने की सूचना है। मढ़ी में एक फीट, अटल टनल के साउथ पोर्टल में स्थित धुंधी इलाके में आठ इंच और सोलंगनाला में पांच इंच तक बर्फबारी हुई है।

बर्फबारी के कारण रोहतांग दर्रा यातायात के लिए बंद हो गया है। अटल टनल में भी पर्यटकों की आवाजाही बंद कर दी गई है। मनाली-लेह मार्ग और शिंकुला दर्रा भी बर्फबारी के कारण यातायात के लिए बंद हो गया है। कुल्लू-लाहौल की पहाड़ियों में जमकर बर्फबारी होने से मौसम कूल-कूल हो गया है।

जिला कुल्लू में भी मौसम ने कवरट ली है। जिला की पहाड़ियां भी बर्फबारी से सफेद हो गई है। बाह्य सराज को जोडने वाला नेशनल हाईवे-305 यातायात के लिए अवरूद्ध हो गया है। बर्फबारी से जलोड़ी दर्रा सहित कई जगहों पर निगम की बसें फंस गई हैं। कुल्लू और लाहौल में सौ से अधिक सड़कें यातायात के लिए अवरुद्ध हो गई हैं। कुल्लू जिले के निचले इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है।

बर्फबारी को देखकर घाटी के बागवानों को इस बार सर्दियों में अच्छी बारिश रहने की उम्मीद है। वहीं नकदी फसलों के लिए भी बारिश संजीवनी बनी है। निचले क्षेत्रों में लहसुन की फसल सूखे के चलते पीली पड़ने लगी थी। इसके साथ किसान अब रबी फसल की बिजाई भी कर सकेंगे। चंबा जिले के भरमौर, पांगी और चुराह के टेपा पंचायत में ताजा बर्फबारी हुई है। पूरा क्षेत्र शीतलहर की चपेट में आ गया है।