India Times Group
हरियाणा में तीन युवकों से सेना में नौकरी देने के नाम पर हुई 15 लाख की ठगी
 

हरियाणा।  फतेहाबाद के गांव बैजलपुर और कानीखेड़ा के तीन युवाओं को भारतीय सेना में नौकरी दिलवाने के नाम पर ठग लिया गया। जालसाजों ने इन युवकों को फर्जी नियुक्ति पत्र दिखाकर 15 लाख रुपये ले लिए। बाद में जब वे ज्वाइन करने दिल्ली गए, तब पता लगा कि वे धोखाधड़ी के शिकार हो गए।

इस मामले में पुलिस ने गांव बैजलपुर निवासी कृष्ण की शिकायत पर आरोपी भिवानी के गांव साकरोड़ निवासी राजेश, अशोक फौजी व धूप सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश रचने व धमकी देने से संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया है। आरोपियों में एक फौजी भी है जो कि सूबेदार बताया गया है।

पुलिस को दी गई शिकायत में गांव बैजलपुर निवासी कृष्ण ने बताया कि वह चिनाई का काम करता है और उसके बेटे सुमित व कानीखेड़ी निवासी आकाश व विकास ने दिल्ली की सेना भर्ती रैली में भाग लिया था। इसके बाद गांव का ही धूप सिंह उसे मिला जो कि बेटे के साथ काम करता था। उसने बताया कि भिवानी का साकरोड़ निवासी राजेश उसका जानकार है।

राजेश का परिचित अशोक फौजी है, जो कि फौज में नौकरी लगवा देगा। इसके बाद धूप सिंह ने सुमित की बात फोन पर फौजी से करवाई। दस्तावेज देखने के बाद युवकों से नियुक्ति के लिए 15 लाख रुपये मांगे गए। तीनों बेरोजगार युवा सुमित, आकाश व विकास रुपये देने को तैयार हो गए।

आरोपी अशोक सिरसा जाने की बात कहकर उनसे धांगड़ के पास दो बार मिला और 15 लाख रुपये ले लिए। रुपये लेने के बाद मोबाइल में ज्वाइनिंग लेटर भी दिखाया। कुछ दिन बाद ज्वाइनिंग लेटर लेकर तीनों दिल्ली गए तो पता चला कि यह तो फर्जी है। युवकों ने आरोपियों से रुपये मांगे तो उन्होंने देने से मना कर दिया।  फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।