India Times Group

शाहदरा स्थित राजकीय उच्चतर माध्यमिक कन्या विद्यालय में मिड डे मील खाने से बच्चों की बिगड़ी तबीयत, स्कूल में मचा हड़कंप

 

दिल्ली- एनसीआर। शाहदरा स्थित इलाके झिलमिल कॉलोनी के राजकीय उच्चतर माध्यमिक कन्या विद्यालय में मंगलवार को मिड डे मील खाने से छठी कक्षा की आठ-दस छात्राएं बीमार हो गईं। उल्टी व पेट में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें उपचार के लिए हेडगेवार अस्पताल में भर्ती कराया गया। सभी छात्राएं स्वस्थ हैं, लेकिन इन्हें अभी अस्पताल में कल तक निगरानी में रखा जाएगा। शिक्षकों से मिली जानकारी के अनुसार, खाना दिए जाने से पहले कुछ छात्राओं ने खाने से बदबू आने की शिकायत की थी, लेकिन वहां मौजूद शिक्षकों ने इस शिकायत पर ध्यान नहीं दिया।

खाना खाने के बाद जब छात्राओं ने पेट दर्द और उल्टी होने की शिकायत की, तब स्कूल में हड़कंप मच गया। सभी छात्राओं को हेडगेवार अस्पताल ले जाएगा। यहां सभी छात्राएं उपचाराधीन हैं। घटना का पता चलने पर परिजन भी स्कूल पहुंचे। परिजनों ने इस घटना पर नाराजगी जताई है। परिजनों का कहना रहा कि सरकार को खाने की गुणवत्ता जांचे बिना मिड डे मील नहीं देना चाहिए। ऐसी लापरवाही से बच्चों की जान खतरे में आ सकती है। उधर, छात्राओं को देखने के लिए गांधी नगर इलाके से आप विधायक एसके बग्गा भी हेडगेवार अस्पताल पहुंचे।

इस मामले में शिक्षा निदेशालय मिड डे मील परोसने वाली कंपनी पर कार्रवाई करने पर भी विचार कर रहा है। सरकारी स्कूल शिक्षक संघ के महासचिव अजयवीर यादव ने कहा कि मिड-डे मील तैयार करने वाली कंपनी के विरुद्ध लापरवाही बरतने को लेकर कार्रवाई होनी चाहिए।