India Times Group
गुजरात में हुई जहरीली शराब पीने से 40 लोगों की मौत, 50 लोग हुए अस्पताल में भर्ती
 

गुजरात। प्रदेश में शराबबंदी के बीच जहरीली शराब पीने से होने वाली मौतों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। यहां के बोटाद जिले में अब तक 40 मौतों की पुष्टि हुई है। वहीं करीब 50 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। गुजरात के डीजीपी आशीष भाटिया ने बताया, 600 लीटर जहरीली शराब को 40 हजार रुपये में बेचा गया।

पुलिस ने बताया, पिछले 12 घंटों में सात और लोगों की मौत हो गई है। बोटाद पुलिस नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि मृतकों में से 31 बोटाद के विभिन्न गांवों के थे और नौ अहमदाबाद जिले के धंधुका तालुका के मूल निवासी थे। उन्होंने कहा कि भावनगर, बोटाद और अहमदाबाद के अस्पतालों में अब भी करीब 50 लोग भर्ती हैं।

उधर, पुलिस ने इस मामले में अब तक 10 लोगों को हिरासत में लिया है। माना जा रहा है, इन लोगों ने ही जहरीली शराब बेची। वहीं इतनी बड़ी संख्या में मौतों के सरकार भी सख्त हो गई है। घटना के बाद मंगलवार को गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी ने हाईलेवल बैठक बुलाई थी। इस बैठक में कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। 

एक मृतक की पत्नी ने कहा था कि उसके पति की तबियत रविवार रात को नकली शराब पीने के बाद ही बिगड़नी शुरू हुई। नकली शराब पीने की वजह से अस्पताल में भर्ती हिम्मतभाई नाम के एक शख्स ने कहा कि कई लोग बीमार हुए हैं।  उधर, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने बोटाड में जहरीली शराब की घटना को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की और राज्य पुलिस बल को मादक पदार्थों के अवैध विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिया।