India Times Group
दिल्ली मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास अग्निकांड में हुई 27 लोगों की मौत
 

दिल्ली। मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास स्थित चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में शुक्रवार शाम भीषण आग लग गई। आग लगने की इस घटना में कम से कम 27 लोगों की जलकर मौत हो गई। वहीं एक दर्जन से ज्यादा लोग झुलस गए हैं। मृतकों में दमकल विभाग के दो कर्मचारी भी शामिल हैं। अभी भी मुंडका हादसे में 24 महिलाएं और 5 पुरुषों समेत कुल 29 लोग लापता बताए जा रहे हैं। पुलिस ने शनिवार को मुंडका में आग लगने की घटना को लेकर 304/308/120/34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया है। इसके साथ ही पुलिस ने फैक्ट्री के दोनों मालिकों को गिरफ्तार कर लिया है।

जेनरेटर से शुरू हुई आग लगने की शुरुआत

मौके पर मौजूद चश्मदीदों के मुताबिक, चार मंजिला इमारत की पहली मंजिल से आग फैलना शुरू हुई थी। देखते ही देखते कुछ ही सेकेंड्स में आग ने दूसरे और तीसरे फ्लोर को भी अपनी चपेट में ले लिया। आग इतनी भीषण थी कि इस पर काबू पाने के लिए 30 से ज्यादा दमकल वाहन मौके पर पहुंचे थे। जानकारी के अनुसार आग लगने की शुरुआत जेनरेटर से शुरू हुई थी, जिसके बाद यह आग पूरी इमारत में फैल गई। कुछ ही देर में हर तरफ चीख पुकार मच गई। लोग मदद के लिए चिल्लने लगे। कुछ लोगों ने इमारत से कूदकर अपनी जान बचाने की कोशिश की, जिसमें वे गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक इस इमारत के पास अग्निशमन विभाग की एनओसी भी नहीं थी।

इमारत में पहली मंजिल पर चल रही थी मीटिंग

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आग लगने के दौरान इमारत के प्रथम तल पर कर्मचारियों की मीटिंग चल रही थी। इसमें करीब 50 कर्मचारी मौजूद थे। मीटिंग के दौरान ही आग लगी और अफरातफरी मच गई। इस दौरान कई लोग बिल्डिंग के अंदर फंस गए।