मोबाइल की रेकी कर रहे फोन एप

स्मार्ट फोन यूजर्स की प्राइवेसी पर पर थर्ड पार्टी एप के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से खतरा मंडरा रहा है। फेस ब्यूटी, फोटो एडिटिंग, गेम्स, जोक जैसे कई एप जानकारियों को एक्सेस करके साझा करने की परमिशन लेते हैं।

सायबर एक्सपर्ट कहते हैं कि गूगल प्ले स्टोर पर काफी थर्ड पार्टी एप मौजूद हैं। इनसे फोन की कान्टेक्ट नं., सोशल मीडिया एक्सेस, लोकेशन, ब्राउजर हिस्ट्री जैसी कई तरह की जानकारियां डेवलपर चोरी कर सकते हैं।
हैकर ऐसे एप से स्मार्टफोन को रिमोट एक्सेस पर लेकर आसानी से डेटा चुरा लेते हैं। यूजरएप इंस्टॉल करने के समय डेटा इस्तेमाल करने की परमिशन अनजाने में दे देतेे हैं।

वीडियो बनाने के फेर में जासूस पत्नी घायल

Loading...

बता दें कि एप इंस्टॉल किए जाने के समय इस तरह की परमिशन मांगी जाती है और परमिशन मिलने के बाद सारा डेटासंबंधित इमेज एक्सेस कर लेते हैं। आज कल सोशल मीडिया पर एक ऐसे एप की बनी तस्वीरें शेयर की जा रही हैं जो किसी की भी तस्वीर को बुजुर्ग चेहरे में बदल देता है। लेकिन अब यह एप सोशल मीडिया पर मोबाइल का डेटा चोरी करने के लिए भी चर्चा में है। यह एप अपनी पॉलिसी के अनुसार फोन से सूचनाओं को हासिल करके इसे अपनी पार्टनर कंपनियों से शेयर करने की परमिशन भी रखता है।

सावधान होकर यह सावधानियां बरतें
– थर्ड पार्टी एप कम डाउनलोड करें।
– मोबाइल का डेटा ऑफ रखने की आदत डालें।
– रेलवे स्टेशन पर फ्री के वाइफाई के इस्तेमाल से बचें।
– एप डाउनलोड करते उसकी प्राइवेसी पॉलिसी देख लें।
– मोबाइल में सिक्योरिटी एप का इस्तेमाल करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *