‘बुलबुल’ तूफ़ान से मची तबाही पर केंद्र ने अब तक नहीं लिया कोई एक्शन : ममता बनर्जी

पश्चिम-बंगाल, ब्यूरो | कुछ दिन पहले पश्चिम बंगाल में आये तूफ़ान बुलबुल के उपार सियासत ने काफी तेजी पकड़ ली है। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि पीएम मोदी और अमित शाह से फ़ोन आर बात-चीत होने पर उन्होंने मुझे सहायता करने का भरोसा जताया था लेकिन इस तूफ़ान से होने वाली तबाही के ऊपर अभी तक केंद्र ने कोई भी सहायता नहीं दी है। ममता ने कहा की मेने प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है तभी में ये दावा कर रही हूँ। ममता का कहना है की नुक्सान करीबन 50 हजार करोड़ तक पहुँच गया है। राज्य सरकार की तरफ से मृतको के परिवार को दो-दो लाख का मुआवजा दिया जा चुका है, लेकिन केंद्र की तरफ से अभी तक कुछ भी सहायता नहीं मिली है।

Loading...

ममता बनर्जी ने तूफान पीड़ितों को राहत देने के मामले में राजनीतिक नहीं करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि राहत बांटते समय किसी के राजनीतिक झुकाव को ध्यान में नहीं रखा जाना चाहिए। राज्यपाल जगदीप धनकड़ ने भी यही बात कही है। राज्यपाल ने लोगों से इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करने की अपील की है। यहां पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि शासन में राजनीति का घालमेल होते ही लोकतंत्र के ताने-बाने को नुकसान पहुंचता है। ध्यान रहे कि केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के खिलाफ विरोध जताने और उन्हें काले झंडे दिखाए जाने के एक दिन बाद राज्यपाल ने उक्त टिप्पणी की है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *