India Times Group

एलोवेरा जूस का रोजाना करें सेवन, मिलेंगे ये 5 प्रमुख फायदे

 

एलोवेरा कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है और अगर आप इसके जूस को अपनी डाइट में शामिल करते हैं तो इससे आपको स्वास्थ्य संबंधित कई लाभ मिल सकते हैं। एलोवेरा जूस में अमीनो एसिड, लिग्निन, एंजाइम, खनिज, विटामिन, सैलिसिलिक एसिड और सैपोनिन नामक पोषक तत्व होते हैं। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि रोजाना एक गिलास एलोवेरा जूस का सेवन करने से आपको क्या-क्या स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।

पाचन क्रिया के लिए है लाभदायक
एलोवेरा के जूस में लैक्सेटिव प्रोपर्टीज मौजूद होती हैं, जो आंतों के अच्छे बैक्टीरिया को प्रोत्साहित करती हैं और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकारों को कम करने में मदद करती है। यह गुण पुराने अल्सर के जोखिम कम करने में भी मदद कर सकता है। एलोवेरा का जूस पाचन क्रिया को डिटॉक्स करने में भी सहायक होता है। इसके अतिरिक्त यह जूस इरिटेबल बाउल सिंड्रोम, पेट दर्द और पेट फूलने जैसी समस्याओं का भी प्राकृतिक रूप से इलाज कर सकता है।

सूजन को कम करने में है मददगार
सूजन को कम करने में भी एलोवेरा का जूस मदद कर सकता है। एलोवेरा में एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव मौजूद होता है। यह प्रभाव सूजन की समस्या को दूर करने में काफी मदद करता है। एलोवेरा में पाया जाने वाला यह प्रभाव एलोवेरा के जूस में भी मौजूद होता है। हालांकि ध्यान रखें कि ये फायदे बाजार में मिलने वाले पैक्ड एलोवेरा जूस की बजाय घर पर बने जूस से ही मिल सकते हैं।

खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में है प्रभावी
अगर शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढऩे लगे तो यह हृदय रोग का कारण बन सकता है, इसलिए इसके स्तर को कम रखना जरूरी है। कई अध्ययनों के मुताबिक, एलोवेरा के जूस में मौजूद हाइपोलिपिडेमिक प्रभाव ब्लड लिपिड का स्तर संतुलित करके खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर कम कर सकता है। हालांकि अगर आप पहले से किसी हृदय रोग का सामना कर रहे हैं तो डॉक्टरी सलाह के बाद ही इसे डाइट में शामिल करें।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में है सहायक
एलोवेरा में इम्यूनोमॉड्यूलेटरी प्रभाव मौजूद होता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने में काफी मदद करता है। कई अध्ययनों के मुताबिक, एलोवेरा के जूस में बीटा कैरोटीन के साथ-साथ विटामिन-ष्ट की भी अच्छी मात्रा होती है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूती प्रदान करके शरीर को कई तरह के संक्रमणों और रोगों से सुरक्षित रखने में मदद करते हैं। इसलिए रोजाना एलोवेरा का जूस पीएं।

शरीर को करता है डिटॉक्स
विषाक्त पदार्थों का जमाव होने से शरीर कई तरह के रोगों का घर बन सकता है, इसलिए यह आवश्यक है कि शरीर को डिटॉक्स करने वाली चीजों का सेवन किया जाए। एलोवेरा जूस एक प्राकृतिक क्लींजर है, इसलिए इसका सेवन शरीर को डिटॉक्स करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा रोजाना एक गिलास एलोवेरा का जूस पीने से मधुमेह को नियंत्रित रखने में भी मदद मिल सकती है।