उत्तराखंडः Corona के बीच विधानसभा सत्र की तैयारी… विधायकों के हो रहे कोविड-19 टेस्ट

उत्तराखंड विधानसभा के दर्जनभर सदस्य अभी तक कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं।

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव के कुल मामले 41,000 के पार पहुंच गए हैं। बढ़ते संक्रमण के बीच विधानसभा का मानसून सत्र एक दिन के लिए आहूत किया गया है। 23 सितंबर को होने जा रहे हैं उत्तराखंड विधानसभा के मॉनसून सत्र से पहले विधानसभा सचिवालय  सभी विधायकों और मंत्रियों का कोरोना टेस्ट करा रहा है। विधायकों का कोविड टेस्ट विधायक हॉस्टल में और मंत्रियों का मंत्री आवास पर हो रहा है। कोविड टेस्ट के लिए 21 और 22 सितंबर का दिन तय किया गया है। विधायक हॉस्टल में कई विधायकों का आरटी पीसीआर टेस्ट किया जा चुका है।

स्पीकर के स्टाफ़ में 3 पॉज़िटिव 

दरअसल खतरा इसलिए ज़्यादा लग रहा है कि सत्र से ठीक पहले रविवार को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल भी कोविड पॉजिटिव आ चुके हैं। उन्होंने खुद यह जानकारी दी थी और अपने संपर्क में आए सभी लोगों को टेस्ट करवाने का आग्रह किया था। आज विधानसभा में 61 कर्मचारियो के कोविड-19 एंटीजन टेस्ट करवाए गए जिसमें विधानसभा अध्यक्ष कार्यालय के तीन कर्मचारी पॉज़िटिव पाए गए।

आज पॉज़िटिव पाए गए कर्मचारी हैं।।। समीक्षा अधिकारी, एपीएस और स्टाफ गाड़ी का ड्राइवर। एक ड्राइवर सचिवालय से कोरोना पॉजिटिव पाया गया। उनके वरिष्ठ निजी सचिव, रसोइया और एक चालक की रिपोर्ट कल ही पॉजिटिव आ गई थी।उनसे पहले शनिवार को नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश कोरोना पॉज़िटिव पाई गई थीं। नेता प्रतिपक्ष को उनके गृह क्षेत्र हल्द्वानी से पहले देहरादून लाया गया और फिर देहरादून से मेदांता हॉस्पिटल गुरुग्राम रेफर कर दिया गया। उनकी हालत में अब  सुधार बताया जा रहा है।

6 महीने, 41000 पार 

उत्तराखंड विधानसभा के दर्जनभर सदस्य अभी तक कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। मसूरी से विधायक गणेश जोशी भी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण 25 सितंबर तक सेल्फ़-क्वारंटाइन में चले गए हैं। वह 23 सितंबर के एक दिवसीय विधानसभा सत्र में भी शिरकत नहीं कर पाएंगे।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण को 6 महीने का समय हो गया है। 6 महीने में उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों का  कुल आंकड़ा एक 41, 000 के पार पहुंच गया है। प्रदेश में अभी तक कोरोना से 491 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 12,455  एक्टिव केस हैं। इस बीच 27000 से अधिक लोग कोरोना को मात भी दे चुके हैं।

उत्तराखंड में सबसे अधिक केस देहरादून, हरिद्वार, ऊधम सिंह नगर और नैनीताल जिलों में है। पूरे प्रदेश में करीब 503 क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

Source link

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *