महाकुंभ निर्माण कार्यों में सिंचाई विभाग पर करोड़ों रुपये के घोटाले का आरोप, कांग्रेस ने की सीबीआई जाँच की माँग

देहरादून। महाकुंभ 2021 हरिद्वार के अंतर्गत सिंचाई विभाग उत्तराखंड के कांवड़ पटरी मार्ग के पंद्रह करोड़ रुपये से अधिक के कार्यों की निविदाएं नियम विरुद्ध अपात्र लोगों को आवंटित किए जाने के मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह से मुलाकात कर इस संबंध में ज्ञापन सौंपा।

सूर्यकांत धस्माना ने मुख्यसचिव से कहा कि उत्तराखंड सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता शरद श्रीवास्तव, अधिशाषी अभियंता पुरषोत्तम कुमार, अधिशाषी अभियंता व अत्तर सिंह बिष्ट अधिशासी अभियंता द्वारा नहर कांवड़ पटरी के चौड़ीकरण के कार्य जो कि लगभग 15 करोड़ रुपये की लागत के हैं उनको नियम विरुद्ध उन लोगों को आवंटित कर दिया जो कि तकनीकी बिड में न तो क्वालिफाइड थे और न ही मानकों में उनकी टर्नओवर टेंडर की शर्तों के अनुरूप थी।

सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि इस प्रकार की सात निविदाओं में अधिकारियों द्वारा अपात्र लोगों को कार्य आवंटित कर दिए जबकि जो पात्र थे उनको तकनीकी बिड क्वालीफाईड होने के बावजूद बाहर कर दिए गए। सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि उक्त अधिकारियों ने न केवल गलत लोगों को कार्य आवंटित किया बल्कि सरकार को भी करोड़ों रुपए का नुकसान किया इसलिए उनके विरूद्ध आपराधिक मामला भी दर्ज कर कार्यवाही की जाय। प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस नेता राजेश चमोली, ललित भद्री व अनुज दत्त शर्मा शामिल थे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *