अमेरिकन एक्सचेंज ने की इन्फोसिस की छानबीन, कम्पनी पर लगे गंभीर आरोप

News Desk

आईटी दिग्गज इन्फोसिस में गड़बड़ी के बारे में व्हिसलब्लोअर की शिकायत पर अमेरिकी सिक्यूरिटीज ऐंड एक्सचेंज कमीशन ने जांच शुरू कर दी है। गुरुवार को यह खबर आने के बाद इन्फोसिस का शेयर टूट गया। सुबह 9.30 बजे इन्फोसिस का शेयर करीब 12 अंकों की गिरावट के साथ 638 रुपये पर पहुंच गया था। दोपहर 12 बजे तक इन्फोसिस का शेयर 641 रुपये पर चल रहा था। बुधवार को इन्फोसिस का शेयर 650.75 रुपये पर बंद हुआ था। आपको बता दें कि इन्फोसिस के CEO सलिल पारिख और CFO नीलांजन रॉय पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाया गया है। कर्मचारियों के एक अनाम समूह ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। ग्रुप ने कहा है कि कंपनी का मुनाफा ज्यादा दिखाने के लिए उन्होंने निवेश नीति और एकाउंटिंग में छेड़छाड़ किया है और ऑडिटर को अंधेरे में रखा है।

Loading...

इस समूह का कहना है कि उसके पास अपने आरोपों के प्रमाण में ई-मेल और वायस रिकॉर्ड‍िंग भी है। ‘एथिकल एम्प्लॉइज’ नाम के इन्फोसिस के इस अज्ञात कर्मचारियों के समूह ने इन्फोसिस बोर्ड के साथ ही अमेरिका के SEC को एक विस्फोटक लेटर लिखकर आरोप लगाया है कि ज्यादा मुनाफा और रेवेन्यू कमाने के लिए कंपनी ने ‘अनैतिक’ आचरण का सहारा लिया है। इन्फोसिस ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि SEC ने CEO सलिल पारिख और CFO नीलांजन रॉय के बारे में व्हिसलब्लोअर की शिकायत पर जांच शुरू कर दी है। इन्फोसिस बोर्ड को लेटर लिखकर भेजी गई अपनी शिकायत में कर्मचारियों के ग्रुप ने कहा है कि उन्होंने प्रमाण की कॉपियां मेल के साथ अटैच की हैं और वे इस मामले की तत्काल जांच चाहते हैं। लेटर के अनुसार, ‘वायस रिकॉर्डिंग और ई-मेल से यह पता चलता है कि किस तरह से CEO और CFO ने ऑडिटर को नजरअंदाज कर ये काम किए और ऑडिटर को बदल देने की भी धमकी दी। ‘

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *