भारतीय सेना ने POK में आतंकी ठिकानों को उड़ाया, चौकियों के साथ कई आतंकी भी ढेर

एक तरफ जहां पूरा विश्व कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहा है वहीं पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार को उत्तरी कश्मीर के उड़ी और केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर गोलाबारी की गई। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने पीओके में तीन से चार आतंकी ठिकाने उड़ा दिए। कई आतंकियों के मारे जाने की भी खबर है। कई चौकियां भी तबाह हुई हैं। इसके साथ ही आयुध भंडार को भी निशाना बनाया गया।

पाकिस्तान अपनी कायराना हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। बताया जाता है कि केरन में तैनात जवानों ने शुक्रवार की सुबह LOC के पार नीलम घाटी के दुदनियाल और थेजियां इलाके में पाकिस्तानी सेना की गतिविधियां देखीं थी। पाकिस्तानी सेना का एक दस्ता LOC के अगले हिस्से की तरफ इस दौरान आ गया था। इसके आधार पर संबंधित फील्ड कमांडरों को पाकिस्तान की तरफ से कार्रवाई और घुसपैठ के प्रयास की आशंका तेज हो गई थी।

पाकिस्तान द्वारा इस संघर्ष विराम का उल्लंघन करने के बाद भारतीय सेना ने सीमा पार बनी पाक चौकियों पर जबरदस्त हमला कर दिया है। सूत्रों का कहना है कि कुपवाड़ा में LOC के दूसरी तरफ आतंकी लॉन्च पैड और गोला-बारूद का एक बड़ा भंडार बर्बाद हो गया है। संघर्ष विराम का उल्लंघन करने पर पाकिस्तानी सेना को एक बार फिर मुंह की खानी पड़ी है। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई में नीलम घाटी में पाकिस्तान के पांच सैनिक मार दिए गए हैं इसके साथ ही कई आतंकियों के भी मारे जाने की सूचना मिल रही है।

हालांकि इस बात की अभी तक  आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी है। पाकिस्तानी सेना ने रिहायशी इलाकों में भी तोप के गोले बरसाए थे। इससे गांव में एक मकान क्षतिग्रस्त हो गया, लेकिन कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। इस पर भारतीय जवानों ने भी तोपखाने और मोर्टार का इस्तेमाल किया। इसमें पाकिस्तानी सेना की दोमेल चौकी के अलावा दुदनियाल में स्थित उसके ब्रिगेड मुख्यालय को भारी नुकसान पहुंचा है। एथमुकाम और दुदनियाल के बीच स्थित आतंकियों का लॉन्चिंग पैड पूरी तरह तबाह हो गया।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *