पूर्व विधायक शैलेन्द्र सिंह रावत ने मुख्य पशुधन अधिकारी पौड़ी से विकास खंड यमकेश्वर में पशुधन उन्नयन के बारे में वार्ता की

आज श्री शैलेन्द्र सिंह रावत, पूर्व विधायक जी ने मुख्य पशुधन अधिकारी, पौड़ी से विकास खंड यमकेश्वर में पशुधन उन्नयन के बारे में वार्ता की। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त किया कि उक्त विकास खंड में तीन-२ पशु चिकित्सालय होने के बाबजूद पशु संवर्धन के क्षेत्र में उपलब्धि शून्य है, जिसे श्री बर्तवाल, सी वी ओ, पौड़ी ने निश्चित समयावधि में परिणाम देने की बात स्वीकार की।
मुख्य बिंदु
1. स्थानीय गायों का प्रजजन: उच्च नस्ल के सांडों द्वारा दुधारू नस्ल की गायों प्रजजन।
2. भेड़-बकरियां: भेड़-बकरी पालन में उन्नत नस्ल, जो अधिक मांस और उच्च कोटि की ऊन दे सकें का लक्ष्य तय करना।
3. मुर्गी पालन: वायलर व देशी नस्ल की मुर्गियों का समुचित संवर्धन करना।
4. सुअर पालन: अन्य जानवर जैसे सुअर, घोड़े, खच्चर आदि को बढ़ावा देकर आर्थिकी बढ़ाना।
मा. विधायक जी ने अभी लाकडाऊन का हवाला देते हुए, छः माह का समय दिया है कि इस अवधि में परिणाम सामने आने चाहिए, अन्यथा जनतांत्रिक तरीकों से जनता आन्दोलित हो सकती है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *