उत्तराखंडः कृषि उत्पादों में होगी हर जिले की खास पहचान, ये जनपद हुए चयनित

राज्य में कृषि उत्पादों से अब हर जिले की खास पहचान होगी। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्यम उन्नयन योजना (पीएमएफएमई) के तहत प्रत्येक जिले से कृषि उत्पादों का चयन किया गया। केंद्र ने भी इन उत्पादों को मंजूरी दे दी है।

देहरादून जिले में बेकरी, हरिद्वार में मशरूम, टिहरी में अदरक, पिथौरागढ़ में हल्दी उत्पाद को चयनित किया गया। इन उत्पादों के लिए मूल्य संवर्धन, अवस्थापना विकास, मार्केटिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिंग से अलग पहचान मिलेगी। इससे किसानों को भी उपज का उचित मूल्य के साथ उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा मिलेगा।

कृषि विभाग की ओर से जिले के हिसाब से चयनित कृषि उत्पादों को केंद्र ने मंजूरी दे दी है। अब इन उत्पादों को एक अलग पहचान मिलेगी। देहरादून में बेकरी कारोबार लंबे समय से हो रहा है, लेकिन उस हिसाब से उत्पाद को बढ़ावा नहीं मिला है।

टिहरी जिले में अदरक, चमोली जिले में माल्टा, उत्तरकाशी में सेब, ऊधमसिंह नगर जिले में आम का उत्पादन सबसे ज्यादा होता है, लेकिन मूल्य संवर्धन न होने के कारण किसानों को उपज का सही दाम नहीं मिल पाता है। अब पीएमएफएमई योजना के तहत सरकार चयनित उत्पादों के सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को बढ़ावा देगी। जिससे जल्द खराब होने वाले उत्पादों को प्रसंस्करण कर अन्य खाद्य वस्तुएं बनाई जाएगी।

प्रदेश में ये है उत्पादों के उत्पादन की स्थिति
प्रदेश में चौलाई (रामदाना) का सालाना उत्पादन 6268 मीट्रिक टन है। इसी तरह सेब का 57753 मीट्रिक टन, मशरूम का 13500 मीट्रिक टन, माल्टा व नींबू प्रजाति के फलों का 90922 मीट्रिक टन, हल्दी का 14181 मीट्रिक टन, आम का 154031, खुमानी का 28026, अदरक का 48467 मीट्रिक टन उत्पादन होता है। चमोली जिले में मत्स्य उत्पादन सबसे अधिक होता है। प्रदेेश में लगभग 50 मीट्रिक टन उत्पादन किया जाता है।

एक जिला एक उत्पाद’ के लिए प्रत्येक जिलों में उत्पादों की उत्पादकता के आधार पर कृषि उत्पादों का चयन किया गया है। उन उत्पादों को मार्केटिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिंग, प्रोसेसिंग के लिए अवस्थापना विकास किया जाएगा। असंगठित क्षेत्र के खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को कुल परियोजना लागत कर 35 प्रतिशत या अधिकतम 10 लाख की सहायता किया जाएगा।
– सुबोध उनियाल, कृषि एवं उद्यान मंत्री

जिला वार चयनित उत्पाद 

जिला  चयनित उत्पाद 
हरिद्वार मशरूम
रुदप्रयाग चौलाई (रामदाना)
चमोली मत्स्य
टिहरी अदरक
बागेश्वर कीवी
अल्मोड़ा खुमानी आधारित जैम, चटनी, अचार
ऊधमसिंह नगर आम
पिथौरागढ़ हल्दी
पौड़ी माल्टा व नींबू प्रजाति फल
नैनीताल फलों का जूस व स्कवैश
देहरादून बेकरी उत्पाद
उत्तरकाशी सेब आधारित जैली, जैम, चटनी, कैंड, जूस

Source Link

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *