India Times Group

दुबई में छाया पठान का ट्रेलर, बुर्ज खलीफा पर वीडियो देख झूम उठे शाहरुख खान

 

बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान की दीवानगी भारत ही नहीं दुनियाभर में है। खासकर जैसे-जैसे उनकी फिल्म पठान की रिलीज पास आ रही है, प्रशंसकों का उत्साह बढ़ता ही जा रहा है। दुनियाभर के प्रशंसक शाहरुख की इस फिल्म का इंतजार कर रहे हैं। शनिवार शाम पठान का ट्रेलर दुबई स्थित दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा पर प्रदर्शित किया गया। इस मौके पर प्रशंसकों के अलावा खुद शाहरुख भी वहां मौजूद रहे।

बुर्ज खलीफा पर शनिवार को पठान का ट्रेलर दिखाया गया। इस दौरान खुद किंग खान वहां मौजूद थे। अब सोशल मीडिया पर इवेंट के कई वीडियो शेयर हो रहे हैं। शाहरुख फिल्म के गाने झूमे जो पठान पर थिरकते हुए दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने फिल्म के डायलॉग भी अपने प्रशंसकों के लिए बोले। वहां मौजूद लोग तब बेहद खुश हो गए जब शाहरुख ने बुर्ज खलीफा के सामने अपना आइकॉनिक पोज किया।

पठान इस साल की बहुप्रतिक्षित फिल्म है इसलिए निर्माता इसका प्रमोशन भव्य तरीके से करना चाहते थे। यशराज फिल्म्स के इंटरनेशनल डिस्ट्रीब्यूशन के वाइस प्रेसिडेंट नेलसन डीसूजा ने कहा था, पठान आने वालीं बहुप्रतिक्षित फिल्मों में से एक है। ऐसे में जरूरी है कि इसकी झलक दर्शकों के सामने भव्य तरीके से पेश की जाए। हम बेहद उत्साह के साथ यह घोषणा कर रहे हैं कि शाहरुख खान की पठान का ट्रेलर आइकॉनिक बुर्ज खलीफा पर दिखाया जाएगा।

करीब चार साल बाद पठान के साथ शाहरुख वापसी कर रहे हैं। फिल्म में वह एक देशभक्त जासूस की भूमिका में नजर आएंगे। वहीं जॉन अब्राहम फिल्म में विलेन बने हैं। पर्दे पर उनका और शाहरुख का तगड़ा एक्शन देखने को मिलेगा। दीपिका पादुकोण भी फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं। पठान, टाइगर और वॉर के क्रॉसओवर की चर्चा काफी समय से हो रही है। फिल्म में सलमान खान और ऋतिक रोशन भी दर्शकों को सरप्राइज दे सकते हैं।

बुर्ज खलीफा पर इससे पहले भी शाहरुख कई बार नजर आ चुके हैं। पिछले साल जन्मदिन पर बुर्ज खलीफा से उनको बधाई दी गई थी। इसके पहले 2019 में भी शाहरुख के जन्मदिन के मौके पर बुर्ज खलीफा पर उनका नाम रोशन हुआ था। पिछले साल सितंबर में दुबई की एक चिकित्सा कंपनी के विज्ञापन में वह नजर आए थे। इस विज्ञापन को भी बुर्ज खलीफा पर दिखाया गया था।

बुर्ज खलीफा दुबई में स्थित दुनिया की सबसे ऊंची इमारत है। इसकी ऊंचाई करीब 829 मीटर है। इसका निर्माण 2004 में शुरू किया गया था और 2009 में यह इमारत बनकर तैयार हो गई थी। 2010 में इसका उद्घाटन किया गया था।